October 13, 2020

आखिर क्यों जलाया राजपूत समाज ने उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव का पुतला?

मध्यप्रदेश शासन के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव आज-कल आगर विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी मनोज ऊंटवाल के प्रचार में काफी सक्रिय दिखाई दे रहे है लेकिन अब उनकी यह सक्रियता ही अब भाजपा की मुसीबतें बढ़ाती नजर आ रही है. पढ़े पूरी खबर…


आगर-मालवा। आगर विधानसभा पर होने वाले उपचुनाव को लेकर भाजपा और कांग्रेस दोनों मैदान में उतर गई है. दोनों पार्टियां अपने-अपने स्तर पर प्रचार कर रही है. एक ओर जहां कांग्रेस घर-घर जाकर लोगों से वोट मांग रही है तो वही भाजपा अभी अपने ग्रामीण ओर नगर मंडल के कार्यकर्ताओं में जोश भरने का कार्य कर रही है. ऐसे ही नगर मण्डल ओर ग्रामीण मण्डल के कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करने हर सभा मे उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव आगर पधार रहे है लेकिन अब उनका इन सभाओं का सम्बोधन भाजपा की मुश्किलें बढ़ाता नजर आ रहा है.

मोहन यादव ने आगर ग्रामीण मण्डल के कार्यकर्ता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए तनोडिया दरबार के बारे में अशोभनीय टिप्पणी की है जिसके बाद अब राजपूत समाज मंत्री मोहन यादव के विरोध में आ गया है.


मंत्री मोहन यादव ने कहा कि-

“तनोडिया कोई आज का नही है, तनोडिया तो कई राजा-महाराजाओं के जमाने से मालूम पड़ता है जाने कौन-कौन दरबार वहा रहते है लेकिन वह दरबार अपने गाँव के लोगों को पानी तक नही पिला पाते”.


इसी टिप्पणी के बाद अब राजपूत समाज ने मंत्री मोहन यादव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है और जगह-जगह मंत्री का पुतला दहन राजपूत समाज द्वारा किया जा रहा है.

बता दें जिन दरबारों का मंत्री मोहन यादव ने अपने सम्बोधन में जिक्र किया है वह राजपूत समाज के वरिष्ठ ओर काफी सम्मानीय लोग है. मंत्री के बयान का वीडियो जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वैसे ही राजपूत समाज का मंत्री पर रोष बढ़ता गया. इसके बाद आज मंत्री मोहन यादव का राजपूत समाज के लोगों ने ग्राम रणायरा राठौर में पुतला दहन किया और मंत्री मोहन यादव मुर्दाबाद के नारे लागये।।

सोशल मीडिया पर हो रहा जमकर विरोध

मंत्री मोहन यादव का यह अशोभनीय बयान सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. फेसबुक पर राजपूत समाज के लोग मंत्री से माफी मांगने की मांग कर रहे है और माफी नही मांगने पर पूरे जिले भर में मंत्री का पुतला दहन करने की बात कर रहे है. साथ ही भाजपा को चुनाव में इसका खामियाजा भुगतने की बात कही जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *