July 27, 2020

जानिए आखिर क्यों निलंबित हुए छतरपुर महिला बाल विकास अधिकारी अनिल जैन?

👉मुख्य नगरपालिका अधिकारी बक्स्वाहा की शिकायत पर सागर कमिशनर ने की कार्यवाही.


👉21 जुलाई को शराब के नशे में मुख्य नगरपालिका अधिकारी लखनलाल पाठक से की थी अभद्रता.


👉बक्स्वाहा थाने में महिला बाल विकास अधिकारी अनिल जैन के विरुद्ध दर्ज हुई थी एफआईआर

छतरपुर:-महिला एवम बाल विकास अधिकारी अनिल जैन निलंबित को कमिश्नर के द्वारा निलंबित कर दिया गया है अनुविभागिय अधिकारी विजावर के प्रतिवेदन पर सागर कमिशनर ने की निलंबन की कार्यवाही।


ज्ञात हो कुछ दिनों पहले बड़ा मलहरा से रात करीब 10:00 बजे सीएमओ लखनलाल पाठक बोलेरो गाड़ी में सवार होकर बक्सवाहा आ रहे थे जिनके साथ पूर्व मंडल अध्यक्ष राज किशोर तिवारी एवं रामकुमार दुबे एवं गनेश लोधी ड्राइवर के साथ सभी गाड़ी में सवार थे हीरापुर से 7 किलोमीटर दूर घाटी के पास बिना नंबर की स्कॉर्पियो गाड़ी द्वारा सीएमओ की गाड़ी को कट मारा गया जिससे हादसा बाल-बाल होते बचा। जब स्कॉर्पियो गाड़ी को रोका गया तो स्कॉर्पियो में गाड़ी चला रहे महिला बाल विकास परियोजना के जिला अधिकारी अनिल जैन शराब के नशे में धुत होकर गाड़ी से बाहर निकले और सीएमओ लखनलाल पाठक सहित सभी को गंदी गंदी अश्लील गाली देने लगे।

सीएमओ द्वारा तुरंत दूरभाष पर बक्सवाहा थाना प्रभारी राजेश्वरी कौरव को मौके की जानकारी दी जिसके बाद बक्सवाहा में पुलिस बल द्वारा बिना नंबर की स्कॉर्पियो गाड़ी को रोका गया मौके पर पुलिस पहुंची तब पता चला की स्कॉर्पियो में ड्राइवर महिला बाल विकास जिला अधिकारी अनिल जैन सहित शराब के नशे में है यह नाम उन्हीं के द्वारा बताया गया है विवाद तब और बढ़ गया जब पुलिस द्वारा स्कॉर्पियो गाड़ी को जब रोका गया तब पीछे से अपनी गाड़ी से आ रहे सीएमओ लखनलाल पाठक भी आ गए और सीएमओ द्वारा जब अनिल जैन से कहा गया कि आपके द्वारा मेरी गाड़ी को कट मारा गया है तब अनिल जैन द्वारा सीएमओ को अश्लील शब्दों का प्रयोग करते हुए जान से मारने की धमकी दे डाली उसी दौरान एसआई आर के शुक्ला द्वारा अनिल जैन को पुलिस थाना लाया गया और उन्हें शराब की जांच कराने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया।

जांच में अनिल जैन के शरीर में अल्कोहल की मात्रा पाई गई
सीएमओ लखनलाल पाठक द्वारा चार पहिया गाड़ी द्वारा कट व रास्ते में छेड़छाड़ एबं गालियां व जान से मारने की धमकी देने को लेकर थाने में एक आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई थी जिला महिला बाल विकास अधिकारी अनिल जैन पर मामला पंजीबद्ध किया गया था।

अवनीश चौबे रिपोर्टर छतरपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post