May 28, 2021

BJP प्रदेशाध्यक्ष के संसदीय क्षेत्र में दलित परिवार को बनाया गया बंधक, गर्भवती महिला से हुआ दुष्कर्म लेकिन वीडी शर्मा के कान पर जूं तक ना रेंगी, भीम आर्मी का अल्टीमेटम 24 घण्टे में नही हुई कार्यवाही तो होगा बड़ा आंदोलन

2 0
Read Time:7 Minute, 53 Second

छतरपुर/ भोपाल। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के संसदीय क्षेत्र खजुराहो से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है, यहां एक दलित परिवार को 5 दिन तक बंधक बनाकर रखा गया साथ ही घर मे मौजूद गर्भवती महिला के साथ मारपीट कर उसके साथ दुष्कर्म किया. इस घटना को जिसने भी पढ़ा या सुना उसकी रूह कांप गई लेकिन भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा को अपने संसदीय क्षेत्र की इस दिलदहला देने वाली घटना को जानकर भी उनके कान में जूं तक नही रेंगी. सांसद जी ने ना तो घटना पर कोई प्रतिक्रिया दी और ना ही पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया.

दरअसल, यह घटना दलित समुदाय से जुड़ी होने के चलते सोशल मीडिया पर भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा को मेंशन करके ट्वीट किए और दलित परिवार को न्याय दिलाने की मांग की लेकिन यह मामला उनके संज्ञान में आने के बावजूद भी उन्होंने और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है ना ही जिले के पुलिस अधिकारियों को फोन लगाकर कोई कार्यवाही करने की बात कही है. यह हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि अगर वह कार्यवाही के लिए कहते तो उस बात को छिपा कर नहीं रखते बल्कि अपना दलित हितैषी चेहरा बताने के लिए सबके सामने ढिंढोरा पीटकर ट्विटर पर ट्वीट कर देते.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा की चुप्पी ट्विटर पर सुर्खियां बटोर रही है. वीडी शर्मा इस मामले को लेकर चुप हैं यह काफी गंभीर विषय है क्योंकि भाजपा हमेशा खुद को दलित हितैषी बताने में लगी रहती है लेकिन जब किसी दलित परिवार के साथ जब इतनी बड़ी घटना हो जाए और भाजपा का एक भी कार्यकर्ता यहां तक की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी उनकी सुध नहीं ले तो फिर भाजपा को दलित विरोधी कहना गलत नहीं होगा क्योंकि अगर भाजपा दलित हितैषी होती तो मुख्यमंत्री यहां भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा दोषियों पर उचित कार्यवाही के निर्देश देते हैं या फिर पीड़ित परिवार और पीड़िता से फोन पर बात कर उन्हें साहस देते लेकिन यहां ऐसा कुछ नहीं हुआ..

अब यह तो देखने वाली बात होगी कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और खजुराहो सांसद वीडी शर्मा दलित परिवार के साथ हुई इस दर्दनाक घटना को लेकर कोई उचित कार्यवाही करने के निर्देश अधिकारियों को देंगे या फिर वह आरोपियों को बचाने के प्रयास में लगे रहेंगे.

इसी को लेकर सुनील अस्तेय ने ट्विटर पर लिखा कि: भाजपा प्रदेशअध्यक्ष वीडी शर्मा के गृह क्षेत्र छतरपुर दुष्कर्म घटना, पटेलों ने दलित परिवार के व्यक्ति को मारा, घर से भगाकर उसी के घर 5माह गर्भवती पत्नी के साथ के 4 दिनो तक बंधक रख बच्चो के सामने गैंगरेप कर लोहे की राड से मारा

@vdsharmabjp आपकी चुप्पी दुष्ककर्मीयो के हौसले बढ़ा रही.

घटना को लेकर अब भीम आर्मी काफी एक्टिव हो गई है. भीम आर्मी के राष्ट्रीय अध्यक्ष से लेकर मध्यप्रदेश भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने मध्य प्रदेश सरकार को 24 घंटे का अल्टीमेटम दे दिया है .भीम आर्मी के सुनील अस्तेय ने “द टेलीग्राम” से बातचीत में बताया कि अगर मध्यप्रदेश सरकार दोषियों पर उचित कार्यवाही नहीं करती है तो भीम आर्मी छतरपुर में बड़ा आंदोलन करेगी.

सुनील अस्तेय ने ट्वीटर पर लिखा कि: छतरपुर घटना के किडनैपर, दुष्कर्मी को पुलिस 24 घण्टो के अंदर अरेस्ट करें, नही तो हम छतरपुर आ रहे है. पीड़ितो को सुरक्षा दी जाये. पीड़िता को न्याय दिलाने, बहनों की रक्षा के लिये सड़को पर होंगे.

प्रदेशवासी,भीमआर्मी/आज़ाद समाज पार्टी के साथी बड़े आंदोलन के लिए तैयार रहे. @ChouhanShivraj

यह है मामला..

उक्त पूरी घटना राजनगर थाना क्षेत्र से महज 5 किलोमीटर दूर स्थित बंदरगढ़ गांव की है. जहां 32 वर्षीय बैजनाथ अहिरवार का जुल्म सिर्फ इतना सा था कि उसने स्वास्थ्य ठीक नही होने के चलते गांव के दबंग पटेल के यहां खेत में काम करने से मना कर दिया था. जिसपे बैजनाथ अहिरवार और उसके 22 वर्षीय भाई लखन अहिरवार के साथ पहले तो दबंगो ने जमकर मारपीट की तो वह किसी तरह अपनी जान बचाकर गांव से भाग गये लेकिन बेरहम दबंग को अपनी दबंगई पर इतना घमंड था कि वह इतने पर भी नहीं रुके उन्होंने बैजनाथ अहिरवार के घर में घुसकर उसकी 5 माह से गर्भवती पत्नी 28 वर्षीय सोनम अहिरवार के साथ उसके नाबालिग बच्चों और सास के सामने मारपीट कर दुष्कर्म किया. वह मामले की जानकारी पुलिस को ना दे सकें इसके लिए उन्हें उनके ही घर में बंधक बना लिया गया है. जहां वह पिछले 4-5 दिनों से भूखे-प्यासे तड़प रहे है. मारपीट के कारण उन्हें कई जगह चौट लगी है लेकिन उनका ईलाज भी नहीं हो पा रहा है.

मारपीट में उसके गर्भ में पल रहा भ्रूण भी घायल हुआ है पेट में जोरों का दर्द है. पेट में उसकी हालत कैसी है, कोई अनहोनी तो नहीं हो गई कुछ भी नहीं पता. ठीक इलाज नही मिलने से कहीं सुमन अपनी जान ना गंवा बैठे. वहीं महिला का कहना है कि हमें किसी से और किसी को हमसे मिलने नहीं दिया जा रहा है. दबंगों का स्पष्ट कहना है कि जो भी इनसे मिलेगा या साथ देगा वह जान से जायेगा. पीड़ित गर्भवती सोनम से हुई मारपीट से शरीर पर कई जगहों पर निशान बन गए है जिनहे देखकर हम आसानी से अंदाजा लगा सकते है कि किस कदर से महिला के साथ मारपीट की गई है..

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
50 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
25 %
Surprise
Surprise
25 %

Latest Post

error: Content is protected !!