October 19, 2020

कमलनाथ की इमरती देवी पर टिप्पणी, दलित समाज का अपमान है: सिंधिया

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंत्री इमरती देवी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए उन्हें आइटम बताया था, जिसके बाद राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इसे दलित समाज का अपमान बताया है.


भोपाल। मध्यप्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के कई रंग देखने को मिल रहे हैं. नेता चुनाव में इतने रम गए हैं कि वह सही भाषा का उपयोग करना ही भूल गए हैं. कुछ ऐसा ही कल ग्वालियर की डबरा विधानसभा में हुआ था. डबरा विधानसभा में कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में जनसभा करने गए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंत्री इमरती देवी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए उन्हें आइटम बता दिया. इतना ही नहीं कमलनाथ के पास में खड़ीं पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ उनका ये बयान सुनकर ठहाके मारकर खूब हंसी.

पूर्व सीएम के इस बयान के बाद प्रदेश की सियासत गर्मा गई है. अब ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मंत्री इमरती देवी के समर्थन में आ गए हैं. उन्होंने ट्वीट करके लिखा है कि ‘एक गरीब और मजदूर परिवार से आगे आईं दलित नेता इमरती देवी जी को आज डबरा में आइटम और जलेबी कहना अत्यंत निंदनीय और आपत्तिजनक है- ये कमलनाथ जी की मानसिकता को भी दर्शाता है. महिलाओं के साथ ही समूचे दलित समाज का अपमान करने वाले ऐसे मगरूर नेता को सबक सिखाने का समय आ गया है.’

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ के इस बयान पर कड़ी आपत्ति जताई है, जिसमें उन्होंने महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी को आइटम कहकर संबोधित किया है. सीएम का कहना है कि यह केवल इंमरती देवी का अपमान नहीं है बल्कि मध्यप्रदेश की बहनों और बेटियों का अपमान है. उनका कहना है कि जिस बेटी ने वर्षों कांग्रेस की सेवा की उसका ऐसा अपमान कमलनाथ कर रहे हैं.

वहीं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि कमलनाथ मीडिया में छाए रहने के लिए ऐसी अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं. वहीं मंत्री विश्वास सारंग ने कांग्रेस के प्रचार पर रोक लगाने की मांग की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post