महिला दिवस की आड़ में युवतियों ने सरेआम तलवार लहराकर उड़ाई कानून की धज्जियां

जबलपुर। विश्व महिला दिवस के मौके पर आज जहां पूरे देश में महिलाओं के पराक्रम और उनके शौर्य की गाथा लोग गा रहे हैं तो वही इस बार के महिला दिवस पर जबलपुर में महिलाओं ने खुले रूप से तलवार लहराकर अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया. ये तलवार लहराने वाली युवतियां थी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की, जिन्होंने आज एक विशाल रैली निकाली और रैली में जमकर तलवार लहराई.


युवतियों ने निकाली वाहन रैली

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के बैनर तले आज सैकड़ों युवतियों ने होम साइंस कॉलेज से रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय तक एक विशाल वाहन रैली निकाली और इस रैली में जमकर खुली तलवारें भी लहराई. तलवार लहराने को लेकर रैली में शामिल युवतियों का मानना था कि आज का दिन हमारा है और हम अपनी शक्ति का प्रदर्शन कर रहे हैं. शहर के होम साइंस कॉलेज से शुरू हुई युवतियों की विशाल वाहन रैली विश्वविद्यालय तक पहुंची. इस दौरान पूरी वाहन रैली में भारी पुलिस बल भी मौजूद था लेकिन पुलिस युवतियों के द्वारा लहराई जा रही तलवार को अनदेखा करते हुए मूकदर्शक बनी रही.


SPONSORED

खास बात यह है कि युवतियों के द्वारा तलवार लहराने की जानकारी पुलिस के आला अधिकारियों तक को नहीं थी, हालांकि जब कुछ मीडियाकर्मियों ने उन्हें तलवार लहराते हुए फुटेज दिखाए तो तब जाकर उन्हें कहा कि इस पूरे मामले की जांच कर उचित कार्रवाई की जाएगी.

सार्वजनिक रुप से तलवार निकालने की अनुमति युवतियों को किसने दी?

निश्चित रूप से आज विश्व महिला दिवस है और आज के दिन महिलाओं को अपनी ताकत और शौर्य दिखाने का अधिकार है लेकिन जिस तरह से जबलपुर में आज बीच सड़क पर युवतियों ने खुले आम तलवारे लहराई है वह कही न कही कानून का उल्लंघन है. इसके अलावा पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठ रहे हैं कि महिलाओं की वाहन रैली में आखिर किसने इन्हें तलवार लहराने की अनुमति किसने दी और अगर अनुमति नहीं है तो फिर अब इन पर क्या कार्रवाई पुलिस के द्वारा की जाएगी.