आगर-मालवा में रिश्ते हुए शर्मसार: दस हजार रुपये के पीछे कलयुगी बेटे ने मां को उतारा मौत के घाट

आगर-मालवा। जिले में हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है, यहां रिश्तों को शर्मसार करते हुए एक कलयुगी बेटे ने चंद रुपयों के लिए अपनी बुजुर्ग मां को मौत के घाट उतार दिया और एक मनगढ़ंत कहानी रचते हुए वारदात को चोरों द्वारा अंजाम देने की बात बताते हुए पुलिस को गुमराह करने का असफल प्रयास किया। दरअसल, घटना मंगलवार और बुधवार की दरमियानी रात को हुई थी, पुलिस की डायल हंड्रेड को महिला की संदिग्ध अवस्था में मौत होने की सूचना मिली थी, जिसके बाद डायल हंड्रेड मौके पर पहुंची और महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा दिया, बाद में आगर कोतवाली पुलिस के दल ने घटनास्थल पर जाकर अच्छी तरह से तलाशी ली थी और कोतवाली पुलिस ने जांच करते हुए चंद घंटों में ही आरोपी छोटे बेटे को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बताया कि आरोपी दिनेश मालवीय की पत्नी स्व-सहायता समूह संचालित करती है और उसके ऊपर दस हजार रुपयों का कर्ज था जिसके लिए आरोपी ने अपनी मां सुगनबाई से रुपये मांगे थे और इसी बात को लेकर दोनों मां-बेटे में जमकर झगड़ा हुआ, गुस्से में आकर आरोपी बेटे दिनेश में अपनी मां का रस्सी से गला घोंट कर हत्या कर दी। इतना ही नहीं आरोपी ने चालाकी दिखाते हुए पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया। उसने मां के पैरों से एक किलो चांदी के कड़े निकालें और उन्हें घर के बाहर रेत में छुपा दिया और फिर घर का सारा सामान बिखेरा, वहीं अपनी मरी हुई मां को खाट पर रस्सी से बांधकर कंबल उड़ा दिया और अपनी पत्नी को जगाया। बाद में गाँव के चौकीदार को बुलाकर जताया कि किसी बाहरी व्यक्ति द्वारा चोरी की नियत से इस घटना को अंजाम दिया गया है।

पुलिस कप्तान राकेश कुमार सगर सहित कोतवाली पुलिस का अमला मौके पर पहुंचा और जांच में लग गया। मामले की पड़ताल के दौरान पुलिस को मृतका के बेटे के हाथ पर रस्सी खींचने के निशान दिखे तो पुलिस को बेटे पर शक हुआ और कड़ी पूछताछ के बाद आखिर आरोपी बेटे ने अपनी मां का कत्ल करना स्वीकार कर लिया। आपको बता दें, हाथों पर यह निशान मरी हुई मां को खाट पर बांधते समय उसके हाथों पर आ गए थे। इस मामले में आरोपी की पत्नी भी घटना के समय घर पर मौजूद थी लेकिन आरोपी ने हत्या में उसका सहयोग स्वीकार नहीं किया हालांकि पुलिस इस पहलू की जांच कर रही है की आरोपी की पत्नी वारदात में शामिल है या नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Do not copy content thank you