प्रधानमंत्री ने ली मुख्यमंत्रियों की बैठक कहा, “महामारी की रोकथाम में मिली हमारी सफलता को नाकामी में न बदलें”

नई दिल्ली : देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों की वर्चुअल बैठक बुलाई. आज दोपहर करीब 12.30 बजे शुरू हुई इस बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वहां के हालात के बारे में जानकारी ली. पीएम मोदी ने राज्यों और देशवासियों से अपील करते हुए कहा कि महामारी की रोकथाम में मिली हमारी सफलता को नाकामी में न बदलें. उन्होंने कहा कि फेस मास्क पहनने को लेकर अभी भी गंभीरता जरूरी है.

बता दें कि, देश में पिछले एक हफ्ते से कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. बीते रविवार को कोरोना के 26,386 नए मामले दर्ज किए गए थे. पिछले 85 दिनों में कोरोना का यह सर्वाधिक मामले हैं.

वहीं 16 मार्च को कोरोना वायरस संक्रमण के 20,000 से अधिक मामले सामने आए थे. केंद्रीय दल ने अपनी रिपोर्ट में महाराष्ट्र में कोविड-19 की दूसरी लहर की शुरूआत के बारे में आगाह किया है. महाराष्ट्र में बिगड़ते हालात को देखते हुए केंद्र सरकार ने प्रभावित राज्य को संक्रमण के प्रसार की रोकथाम के लिए सख्त रणनीति पर ध्यान केंद्रित करने को कहा है.

2.23 लाख एक्टिव कोरोना केस

केंद्र सरकार ने कहा कि कोविड-19 मामलों में दो फरवरी तक गिरावट दर्ज की जा रही थी. हालांकि, उसके बाद से रोजाना सामने आने वाले नए मामलों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है. भारत में 16 मार्च को कोविड-19 के 24,492 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,14,09,831 हो गई थी. 131 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,58,856 हो गई.देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी बढ़ गई है और अभी 2,23,432 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 1.96 प्रतिशत है. आंकड़ों के अनुसार देश में अभी तक 1,10,27,543 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं. हालांकि मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर में गिरावट आई है और यह 96.65 प्रतिशत है. वहीं, कोविड-19 से मृत्यु दर 1.39 प्रतिशत है.

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस का संक्रमण

मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते नए मामलों के मद्देनजर प्रदेश सरकार ने मंगलवार को निर्णय लिया कि भोपाल एवं इंदौर में बुधवार से रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाया जाएगा और आठ अन्य शहरों में रात्रि 10 बजे बाजार बंद होंगे. मध्य प्रदेश जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ यहां कोविड-19 की समीक्षा बैठक में यह निर्णय लिया.

उन्होंने कहा कि भोपाल एवं इंदौर सहित जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन रतलाम, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, बैतूल एवं खरगोन में रात्रि 10 बजे दुकानें बंद होंगी. इन जिलों में कोरोना के अधिक मामलों को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है. अधिकारी ने कहा, ‘इंदौर एवं भोपाल में बुधवार से रात्रिकालीन कर्फ्यू लगेगा. उन्होंने कहा कि होली पर सामूहिक आयोजन नहीं होंगे. लेकिन व्यक्तिगत आयोजनों पर रोक नहीं होगी.