मध्यप्रदेश में अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़ों को अब तक इनाम में बांटे गए 20 करोड़ रुपये

भोपाल। मध्यप्रदेश में छुआछूत को दूर करने के लिए अंतरजातीय विवाह को प्रोत्साहित किया जा रहा है और इसके लिए योजना भी चलाई जा रही है. एक साल में कुल 1,012 दंपतियों को इस योजना का लाभ मिला है. उन्हें 20 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि इनाम के रूप में दी गई.

राज्य में अंतरजातीय प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति कल्याण विभाग अंतरजातीय विवाह करने वाले दंपतियों को प्रोत्साहित कर रहा है. राज्य सरकार अब इन्हें प्रोत्साहित करने के लिए दो लाख रुपये का पुरस्कार दे रही है.


आकर्षक शुल्क में लगवाएं आपके प्रतिष्ठान का विज्ञापन: 7049469012

वर्ष 2020-21 में योजना में 20 करोड़ 24 लाख रुपये की राशि 1012 दंपतियों को उपलब्ध कराई गई है. योजना में ऐसे दंपतियों को पुरस्कृत किया जाता है, जिसमें सवर्ण युवक या युवती द्वारा अनुसूचित जाति की युवक एवं युवती से विवाह किया जाता है.

बताया गया है कि सामाजिक समरसता के निर्माण के उद्देश्य से जिला मुख्यालय पर सद्भावना शिविर आयोजित किए जा रहे हैं. सद्भावना शिविर का आयोजन मुख्य रूप से प्रतिवर्ष दो अक्टूबर को किया जाता है. शिविर के माध्यम से जन-सामान्य को छुआछूत की सामाजिक बुराई के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है.

विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें: 7049469012

You may have missed

error: Do not copy content thank you