शहर हुआ ठगी का शिकार.

शहडोल : लॉक डाउन के दौरान ठगों का गैंग तेजी से सक्रिय होते दिखाई दे रहा है शहडोल जिला कोतवाली एवं साइबर सेल में लोगों के द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई है की एक अनजाने नंबर से d2h के रिचार्ज की लिंक भेज के लोगों को यूपीआई के द्वारा रिचार्ज करने और कैशबैक का लालच दे कर ठगों के द्वारा लोगों का बैंक अकाउंट खाली किया जा रहा है.

फेसबुक एवं ईपास भी बना ठगने का साधन.

यही दूसरी ओर शिकायत दर्ज हुई है कि फेसबुक से दूसरे के फेसबुक अकाउंट से उसकी प्रोफाइल फोटो चुरा कर एक नई आईडी बनाते हैं फिर उस व्यक्ति के फ्रेंड लिस्ट में से कुछ लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते है और उनसे मैसेज के द्वारा नाना प्रकार के कारण बताकर जैसे कि बच्चा एडमिट एडमिट है खाने को नहीं है और भी तरह तरह के बहाने बनाकर एक दूसरा नंबर देते हैं जिसमें पैसे भेजने के लिए बोला जाता है

बॉबी ट्रेवल्स भी ठगों का साथी.

जिला शहडोल थाना सोहागपुर में शहडोल ने काम करने वाले एक होटल के कर्मचारी द्वारा बॉबी ट्रैवल्स के ऊपर ईपास बनवाने के नाम से पैसे मांगने एवं धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई है।
बॉबी ट्रैवल्स के संचालक बॉबी लांबा ने एक होटल के कर्मचारियों को कोलकाता भेजने के लिए 2 गाड़ियों का सौदा 50,000 में तय किया। बाद में ईपास बनवाने के नाम से 3000 से 5000 रुपयों की मांग करी एवं कर्मचारियों के साथ धोखाधड़ी भी करने की कोशिश की। कर्मचारियों को दो ईपास एक ही गाड़ी नंबर से जारी करवा कर कर्मचारियों को एक गाड़ी से ₹50000 में 6 लोगो को जाने के लिए कहने लगा तभी सोहागपुर थाना में शिकायत दर्ज कराई गई और प्रशासन हरकत में आया।

जिला कलेक्टर ने दिया ब्लैक लिस्ट का आदेश.

जिला कलेक्टर डॉक्टर सत्येंद्र सिंह को जैसे ही ईपास के जरिए ठगी का मामला संज्ञान में आया उन्होंने तुरंत क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी को मामले की जांच के लिए आदेश किया एवं बॉबी ट्रैवल्स को ब्लैक लिस्ट करने का आदेश दिया।

“प्रथम दृष्टिगत जांच में बॉबी ट्रैवल्स संचालक बॉबी लांबा को दोषी पाया गया एवं बॉबी ट्रैवल्स को ब्लैक लिस्ट करने की कार्यवाही की गई है”

आशुतोष सिंह भदौरिया
(क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Do not copy content thank you