August 1, 2020

जबलपुर उच्च न्यायालय में आरक्षण की पैरवी करने जा रहे वकील पर हमले के विरोध में सौंपा ज्ञापन.

आगर मालवा में अधिवक्ता पर जानलेवा हमले के विरोध में राष्ट्रीय अति पिछड़ा वर्ग मोर्चा ने राष्ट्रपति के नाम संबोधित एक ज्ञापन दिया है. इसके साथ ही उन्होंने मामले में जल्द कार्रवाई की मांग की है.

आगर मालवा। जबलपुर हाई कोर्ट में ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण की पैरवी करने जा रहे अधिवक्ता पर अन्य अधिवक्ताओं द्वारा किये गए जानलेवा हमले के विरोध में शुक्रवार को राष्ट्रीय अति पिछड़ा वर्ग मोर्चा ने राष्ट्रपति के नाम संबोधित एक ज्ञापन दिया है. उन्होंने ये ज्ञापन भू-अभिलेख अधीक्षक राजेश सरवटे को सौंपा है. इस मौके पर राधेश्याम मेवाड़ा, गौरीशंकर सूर्यवंशी सहित अन्य लोग मौजूद थे.

ज्ञापन में बताया गया कि अधिवक्ता उदय साहू गत दिनों ओबीसी के 27 प्रतिशत आरक्षण को लेकर उच्च न्यायालय में पैरवी करने जा रहे थे. तभी अन्य अधिवक्ताओं ने उन पर हमला बोलते हुए उन्हें गंभीर रूपए से घायल कर दिया. हमला करने वालो पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है. हमलावरों को उनके पद से हटाकर उनकर संवैधानिक कार्रवाई की जाए.

इसी के साथ अनुसूचित जाति वर्ग, ओबीसी व अल्पसंख्यक को मिले आरक्षण को 9वीं अनुसूची में शामिल किया जाए. मोर्चा के जिलाध्यक्ष नटवरसिंह गुर्जर ने बताया कि ओबीसी के आरक्षण की पैरवी पर जाने वाले अधिवक्ता पर हमला किया जाना काफी निंदनीय है. आरोपियों पर कठोर कार्रवाई के लिए राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post