मध्यप्रदेश में दूल्हा-दुल्हन पर दर्ज हुई एफआईआर, बिना इजाज़त शादी में बुला ली भीड़, ढोल-ढमाकों की धूम के साथ परिजनों ने उड़ाई सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

जबलपुर। कोरोना का प्रकोप प्रदेश में भयानक स्तिथि में जारी है. नए संक्रमितों के आने और मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा. ऐसे में भी कुछ लोग शादी के धूम-धड़ाके में गाइडलाइन को ताक पर रख रहे हैं. बिना अनुमति शादी में भीड़ जुटाने और बगैर मास्क मिलने पर पुलिस ने यहां दूल्हा-दुल्हन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है.

जानकारी के अनुसार छोटी ओमती गीता भवन में शादी समारोह की सूचना पुलिस को मिली थी. बेलबाग पुलिस यहां पहुंची और कोरोना उल्लंघन में कार्रवाई करते हुए भीड़ को अलग कराया. बेलबाग टीआई के अनुसार अनिल करोसिया और माया समुद्रे की शादी थी. वर-वधू पक्ष की ओर से शादी का अनुमति पत्र मांगा गया. लेकिन दोनों इसे नहीं दिखा पाए. नियमत: विवाह के लिए अनुमति लेने पर ही 50 लोगों के अधिकतम शामिल होने का आदेश हैं. लेकिन यहां बिना अनुमति के हो रही शादी में मौके पर 80 से 100 लोग मिले.

शादी में न मास्क, न ही सोशल डिस्टेंसिंग

शादी में शामिल बारातियों या घरातियों में न तो किसी ने मास्क लगाया था, न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा था. बैंड-बाजे वालो ने भी मास्क नही लगा रखे थे. बिना अनुमति के विवाह समारोह आयोजित कर भीड़ एकत्रित करने की वजह से, वधू पक्ष की माया समुदे और वर पक्ष के अनिल करोसिया के खिलाफ धारा 188, 269, 270, 34 भादवि के तहत कार्रवाई की गई.

जिले में लगातार बढ़ता जा रहा काेरोना का ग्राफ

जिले में शुक्रवार 23 अप्रैल को जिले में कुल 833 नए संक्रमित सामने आए. कुल संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 31 हजार 513 पहुंच गया. प्रशासन के आंकड़े में गैलेक्सी की पांच मौतों समेत कुल 10 मौतें होना बताया गया है, जबकि हकीकत में मुक्तिधामों व कब्रिस्तानों में 64 लोगाें का अंतिम संस्कार हुआ. इलाज के बाद 751 संक्रमित ठीक भी हुए हैं. अब तक कोरोना से कुल 25 हजार 148 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. अब जिले में एक्टिव केस 6814 हो गए हैं.