मध्यप्रदेश में CM शिवराज ने बढ़ाई “कोरोना कर्फ़्यू” की तारीख़, अब 15 मई तक रहेगा लागू

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी जिलों के कलेक्टरों को आदेशित किया है कि कोरोना कर्फ्यू की तारीख बढ़ाकर 15 मई कर दी जाए. मुख्यमंत्री ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी बड़े अफसरों की मीटिंग को संबोधित कर रहे थे.

CM शिवराज ने जनता से अपील की है कि, कुछ दिन कड़ाई कर लें, संकल्प करें की हम घरों में रहेंगे. मई में कोई शादी-विवाह नहीं करेंगे. आप सभी से आग्रह है सावधानी जरूरी है. मुझे 15 मई तक आपका सहयोग चाहिए. कोरोना को मारने का एक ही उपाय है संक्रमण की चेन तोड़ दो. इसलिए आज में आपसे आह्वान कर रहा हूं कि 15 मई तक हम सब कुछ बंद करें, कड़ाई से जनता कर्फ्यू का पालन करें.

CM शिवराज सिंह ने कहा कि कई लोगों की मानसिकता है कि इस बीमारी को छुपाते हैं, इसे न छुपाएं. किल कोरोना अभियान की टीमें अब मरीजों को ढूंढकर वहीं के वहीं उनका इलाज करेंगी. उन्हें तत्काल दवाइयां मिलेंगी. किसी घऱ में 15 मई तक कोई संक्रमित छूट न जाये. एक एक व्यक्ति को ढूंढ़ कर निकालना है.

सीएम ने अधिकारियों से कहा कि गांव-गांव में छोटी-छोटी टीम बनाई जाएं जो विकेंद्रित तरीके से काम करें. हम भोपाल में बैठकर संक्रमण नहीं रोक सकते इसके लिए आप सभी का सहयोग अत्यंत आवश्यक है. जिन गांवों में पॉजिटिव केस हों वहां मनरेगा के काम भी बंद कर दिये जायें. हम जरूरतमंदों को अनाज देंगे.

शिवराज सिंह ने कहा कि मानवता पर ये संकट है सब भेद भूल जाएँ. एक साथ मिलकर कोरोना से लड़ना है. मैं हर राजनीतिक पार्टी, सामाजिक संगठनों और स्वयंसेवियो से अनुरोध करता हूँ कि ये मिल के काम करने का समय है. राजनीतिक मतभेदों के लिये बहुत समय है.

कोरोना के खिलाफ एक हद तक हम लोग सफल हो पाएं हैं, लंबा सफर अभी जारी है. जरा भी ढिलाई की तो हम संकट में फंस जाएँगे. शहरों के साथ गांव में भी संक्रमण फैल रहा है. गांव में जहां संक्रमण है वहीं उसे रोकना होगा.

मध्यप्रदेश में पॉजिटिविटी रेट 25 प्रतिशत तक पहुंच गई थी अब 18 प्रतिशत के करीब आ गई है. रिकवरी अगर देखें तो ये 85.13 प्रतिशत हो गई है.

हमने प्रदेश में सबसे पहले जनता कर्फयू लगाया. लड़ाई विकट है, लेकिन थोड़ा थामने में हम कामयाब हुए हैं. 21 अप्रैल तक मध्यप्रदेश देश में संक्रमित राज्यों के मामले 7वें नंबर पर था. आज आपके ही सहयोग से हम 14वें नंबर पर आ गये हैं.

कोरोना के खिलाफ मैं सभी प्रदेशवासियों का सहयोग चाहता हूं. ये संक्रमण से फैलने वाली बीमारी है अगर इसको हराना है तो समाज को साथ खड़ा रहना होगा.

You may have missed

error: Do not copy content thank you