October 24, 2020

भक्ति में लीन महिला ने जीभ काटकर माता को चढ़ाई


दमोह। माता रानी की भक्ति में लीन एक महिला ने मन्नत पूरी होने के बाद अपनी जीभ काटकर माता के चरणों में अर्पित कर दी। यह वाक्या शनिवार की रात जिले के हिंडोरिया थाना क्षेत्र में घटित हुआ.
मन्नत पूरी होने पर अपने शरीर का कोई भी अंग काटकर बलि देने के मामले यदा-कदा सामने आते रहते हैं, इसी तरह का एक मामला दमोह मुख्यालय से 18 किलोमीटर दूर हिंडोरिया नगर पंचायत में सामने आया है.

यहां पर कंचनपुरा इलाके में एक महिला ने शनिवार की रात अपनी जीभ काटकर माता के चरणों में अर्पण कर दी. बताया जाता है कि संगीता बाई नामक महिला दर्शन करने माता के दरबार में पहुंची थी. वहां पर वह भजन गाते व सुनते हुए इतनी मग्न हो गई कि उसने अपनी जीभ चाकू से काटी और पान के पत्ते पर रखकर माता के चरणों में अर्पित कर दी. जीभ कटने के कारण पूरे में रक्त फैल गया . जब आसपास जमा लोगों ने देखा तो वह हैरान रह गए हालांकि बहुत से लोग वहीं पर माता के भजन गाने लगे तथा उस महिला व साथ माता रानी की जय जय कार करने लगे।

घटना की सूचना मिलने पर थाना प्रभारी सरिता रजक मौके पर पहुंची और उन्होंने महिला को जिला अस्पताल लाने की तैयारी की लेकिन उस महिला ने उपचार कराने से स्पष्ट इनकार कर दिया. महिला जीभ कटने के बाद ठीक तरह से नहीं बोल पा रही थी लेकिन उसने बताया कि परिवार की खुशी और मन्नत पूरी होने पर उसने अपनी जीभ माता रानी को अर्पण की है. जीभ कटने के बाद महिला ठीक तरह से आजीवन नहीं बोल पाएगी लेकिन उसे इस बात का कोई मलाल नहीं है . उसका कहना है कि माता ने उसकी मनोकामना पूरी की है और उसने अपना वचन पूरा किया है। मालूम हो कि नवरात्र के प्रतिनिधि व सी थी कि इसी तरह का एक वाक्य प्रसिद्ध शक्तिपीठ मैहर में गठित हुआ था वहां पर एक व्यक्ति ने माता रानी के चरणों में अपना सिर काटकर अर्पण कर दिया था.
दमोह से शंकर दुबे की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post