नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन की दलाली करने वाला कांग्रेस का युवा नेता भोपाल से किया गया गिरफ्तार

इंदौर। नकली रेमडेसिविर इंजेक्शऩ बेचने और उसकी दलाली करने के मामले में इंदौर पुलिस ने कांग्रेस के युवा नेता प्रशांत पाराशर को भोपाल से गिरफ्तार किया है. प्रशांत बीना जिला सागर का मूलनिवासी है और भोपाल में रहकर पुलिस उपनिरीक्षक भर्ती परीक्षा की तैयारी कर रहा था. पुलिस ने उसके अलावा डॉक्टर सरवन खान को भी गिरफ्तार किया है.

ईस्ट इंदौर के पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी के अनुसार, पुलिस को गुजरात के सूरत में गिरफ्तार किए गए सुनील मिश्रा से मिली जानकारी के आधार पर सुराग लगा था की बीना निवासी प्रशांत पाराशर पुत्र श्रीराम पाराशर निवासी भीम वार्ड बीना भी नकली इंजेक्शन की खरीद फरोख्त में लिप्त है. आरोपी भोपाल में रहता था और सब इंस्पेक्टर (SI) की तैयारी कर रहा था. बुधवार रात टीम ने दबिश देकर भोपाल से पकड़ लिया. इसी तरह सांवेर निवासी सरवर खान के बारे में गोविंद गुप्ता ने जानकारी दी थी. उसने बताया कि करीब 40 इंजेक्शन सरवर को दिए थे. पुलिस दोनों आरोपियों को कोर्ट पेश कर रिमांड पर ले रही है.

दवा व्यवसायी औऱ सेल्समैन से पूछताछ

पुलिस ने दवा बाजार से गिरफ्तार दवा व्यवसायी गौरव केसरवानी और गोविंद गुप्ता सहित सेल्समैन सुनील लोधी, चिकू शर्मा और आशीष ठाकुर को रिमांड पर लेकर पूछताछ में जुटी है. थाना प्रभारी तहजीब काजी के अनुसार, आरोपियों ने सुनील मिश्रा से करीब 200 इंजेक्शन लेकर अलग-अलग जगहों पर बेचे है.

पीड़ितों के बयान ले रही पुलिस

थाना प्रभारी तहजीब काजी के अनुसार, पुलिस अभी तक 50 इंजेक्शन बरामद कर चुकी है. पुलिस उन लोगों को भी फोन कर थाने बुला रही है जिन्होंने आरोपियों से इंजेक्शन खरीदे थे. हालांकि, अभी तक ज्यादातर ने कहा कि उन्होंने महंगे दामों पर इंजेक्शऩ खरीदे और परिजनों को लगवा दिए..

You may have missed