October 27, 2020

आगर जिले में आचार संहिता का हो रहा उल्लंघन, नगर पालिका भवन में खुला पड़ा नेताओं के नाम लिखा हुआ शिलालेख

आगर जिले में उपचुनाव के लिए लगाई गई आचार संहिता का जमकर उल्लंघन शासकीय भवनों में जिम्मेदार अधिकारियों की नाक के नीचे होता दिखाई दे रहा है. पढ़ें पूरी खबर

आगर-मालवा। मध्यप्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए चुनाव आयोग ने आदर्श आचार संहिता उन सभी 28 विधानसभा क्षेत्रों में लगा दी है लेकिन अभी भी कहीं ना कहीं आदर्श आचार संहिता का कई विधानसभा क्षेत्रों में माखौल उड़ाया जा रहा है. हम बात कर रहे है उस नगरपालिका की जिसको चुनाव के समय संपत्ति निरूपण अधिनियम के तहत शहर में लगे राजनीतिक पार्टियों के बैनर, पोस्टर ओर शिलालेखों पर लिखे राजनीतिक पार्टियों के नेताओं के नाम ढ़कने का कार्य दिया जाता है लेकिन उसी नगरपालिका में इन सभी नियमों की धज्जियां उड़ती दिखाई दे रही है.

आगर नगर पालिका भवन में एक शिलालेख लगा हुआ है, जिसे नगरपालिक भवन के उद्घाटन के समय लगाया गया था. जिस पर पूर्व मंत्री, पूर्व विधायक सहित कई स्थानीय नेताओं के नाम लिखे हुए हैं और वह शिलालेख एक ऐसी जगह पर लगा हुआ है जहां पर गुजरते समय कई आम लोगों और नगर पालिका कर्मियों की सीधी नजर उस शिलालेख पर पड़ती है लेकिन अभी तक जिम्मेदार अधिकारियों ने इस शिलालेख को ढ़कने की सुध नहीं ली है.

आगर जिले में यह पहली बार नहीं है जब किसी शासकीय भवन में आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन होता हुआ दिखाई दे रहा हो. इससे पहले भी आगर जिला चिकित्सालय में कई राजनेताओं के नाम लिखा हुआ शिलालेख खुला पड़ा था, जो कि अस्पताल के प्रवेश द्वार के सीधे सामने था. इस मामले से भी प्रशासन को दि टेलीग्राम ने ही अवगत कराया था. प्रशासन ने दि टेलीग्राम पर खबर प्रकाशित होने के बाद ही उस शिलालेख को ढकवाया था और आज फिर हमने प्रशासन की एक बड़ी लापरवाही आपको दिखाई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post