September 7, 2020

आदिवासी छात्र संगठन धार द्वारा धार जिले की समस्त शासकीय महाविद्यालयों में 4 सूत्री मांगों को लेकर मुख्यमंत्री एवं राज्यपाल तथा उच्च शिक्षा विभाग के नाम धार डिप्टी कलेक्टर भूपेंद्र रावत को सौंपा ज्ञापन



धार। आदिवासी छात्र संगठन धार द्वारा धार जिले की समस्त महाविद्यालय की समस्त प्रकार की समस्या को लेकर 4 सूत्री मांगों को लेकर मुख्यमंत्री एवं राज्यपाल तथा उच्च शिक्षा विभाग के नाम धार डिप्टी कलेक्टर भूपेंद्र रावत को सौंपा ज्ञापन।

 

ज्ञापन में आवास भत्ता की छात्रवृत्ति अभी तक नहीं डाली है उससे विद्यार्थियों को बहुत ही परेशानी का सामना करना पड़ रहा है उधर मकान मालिक किराया मांग रहा है विद्यार्थी किराया दे तो दे कहां से।

विद्यार्थियों की छात्रवृत्ति भी अभी तक नहीं डाली है और विद्यार्थियों को बैंक में 10 चक्कर लगाना पड़ रहे हैं बैंक में जाते हैं खाता एक्टिव करने के लिए जब बैंक वाला बता देता है खाता एक्टिव है वहां से आदिम जाति विभाग कल्याण विभाग में जाते हैं तो वहां पर खाता एनक्टिव बताया जाता है विद्यार्थियों को चारों चक्कर लगा कर बहुत ही परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

आदिवासी छात्र संगठन का कहना है कि प्रथम वर्ष से खाता नंबर हमारा जमा है तो सभी खातों को एक्टिव बैंक द्वारा कर देना चाहिए ना कि ऐसा परेशान करना चाहिए क्योंकि हमारे खाते में पैसे हम लोग निकाल रहे हैं जमा कर रहे हैं तो फिर एनएक्टिव कैसे? छात्र संगठन का कहना है कि सभी के खाते बैंक में जमा है, कॉलेजों में जमा है तो सभी को एक साथ एक्टिव कर देना चाहिए एवं सभी के आवास भत्ता एवं छात्रवृत्ति एक साथ डाल देनी चाहिए और शिक्षा सत्र 2,019-20 एवं 2020-21 शिक्षा सत्र चल रहा है लेकिन अभी तक डिशनरी सामग्री नहीं मिला है सभी धर्म का कहना है कि दोनों शिक्षा सत्र की डिक्शनरी सामग्री एवं सिलेबस की पुस्तक की एक साथ दी जाए ताकि हम ऐसे भी आर्थिक स्थिति से कमजोर है जो भी शासन से योजना मिल रही है वह हमें समय-समय पर मिलती रहे ताकि हम शिक्षा को आगे बढ़ा सकें और हमारा अध्ययन करें. हमे कॉलेजों से पुस्तक की दी जाती है लेकिन वह सभी धार्मिक पुस्तक के होती हैं। हमें सिलेबस की पुस्तकों की जरूरत है क्योंकि सिलेबस की पुस्तक मिलेगी तो हम पढ़कर पेपर देंगे धार्मिक पुस्तकें पढ़ कर हम क्या करेंगे आदिवासी छात्र संगठन ने यह चेतावनी तक दे डाली कि अगर 5 दिन के अंदर समस्या का समाधान नहीं हुआ है तो धार पीजी कॉलेज में धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

ज्ञापन के दौरान आदिवासी छात्र संगठन के प्रदेश संगठन मंत्री मुकामसिंह अलावा, आदिवासी छात्र संगठन मध्य प्रदेश कोषाध्यक्ष सुनील रावत, आदिवासी छात्र संगठन धार जिला अध्यक्ष महेश डामोर, पीजी कॉलेज अध्यक्ष इंगश मेहता, कॉलेज उपाध्यक्ष राकेश अखाड़िया, कॉलेज सचिव अजय चौहान, कॉलेज इकाई अध्यक्ष मडिया बघेल, संतोष सोलंकी संतोष पटेल, उस्तान अनारे, कालू अलावा, रामू चौहान, बाजू अलावा, दिलीप कटारा, जाम सिंह, कतीजा भारत, डावर मोनू आवासिया, जयस जिला अध्यक्ष नारी शक्ति अंकिता अमलियार आदि छात्र छात्राएं उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post