July 26, 2020

एटीएम को ब्लास्ट कर लूटने वाला निकला इंजीनियर, पुलिस ने किया लूट का खुलासा.

●पन्ना पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया.

दमोह। दमोह एवं पन्ना जिले में एटीएम में ब्लास्ट कर रकम लूटने वाले छह आरोपियों को आज दमोह एवं पन्ना जिले की संयुक्त पुलिस टीम ने गिरफ्तार किया है। इन आरोपियों के पास से लाखों रुपए , हथियार, डेटोनेटर तथा नकली नोट भी बरामद किए गए हैं। घटना का खुलासा सागर रेंज के आईजी अनिल शर्मा ने प्रेस वार्ता में किया है।


पन्ना एवं दमोह जिले में एसबीआई के एटीएम में डेटोनेटर से ब्लास्ट करके उसकी रकम लूटने वाले छह आरोपी आज पुलिस के हत्थे चढ़ गए। इन आरोपियों से पुलिस ने बड़ी संख्या में मशरूका बरामद किया है। आईजी शर्मा ने बताया कि आरोपियों से 25 लाख 57 हज़ार की नगद राशि, तीन मोटरसाइकिल , दो मोबाइल, जिलेटिन रॉड, एक लैपटॉप, दो देसी पिस्टल, आठ राउंड जिंदा कारतूस एक प्रिंटर तथा 3 लाख 50 हज़ार के नकली नोट भी बरामद किए गए हैं। मालूम हो कि इन आरोपियों ने 6 मार्च को ग्राम देवडोगरा के एटीएम में ब्लास्ट करके 5 लाख 96 हज़ार रुपए लूट लिए थे। इसके बाद उन्होंने गैसाबाद के ग्राम हिनौता कला में 17 मई को ठीक इसी तरीके से एटीएम में ब्लास्ट करके 20 लाख 32 हज़ार 500 रुपए तथा 19 जुलाई को पन्ना जिले के सिमरिया में ब्लास्ट करके 23 लाख रुपए की रकम लूट ली थी। पन्ना एवं दमोह जिले की पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध मामले दर्ज किए थे.

अपराध की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए सागर आईजी अनिल शर्मा ने दमोह, पन्ना तथा छतरपुर के अधिकारियों की एक टीम गठित कर आरोपियों को शीघ्र पकड़ने के निर्देश जारी किए थे साथ ही 25 एवं 30 हज़ार की अलग-अलग इनाम राशि घोषित की थी। आरोपी देवेंद्र पटेल इंजीनियर है जो कि गिरोह का सरगना एवं मास्टरमाइंड है। पकड़े गए आरोपी राकेश पटेल, जागी उर्फ जागेश्वर पटेल छोटू उर्फ नितेश पटेल जयराम पटेल राकेश पटेल तथा परम लोधी सभी खजरी ग्राम के निवासी है। सभी आरोपियों की उम्र 20 से 30 वर्ष के बीच में है।

पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने जबलपुर एवं कटनी जिले के नुनसर, बहोरीबंद , बाकल तथा मझोली में भी इस तरह की घटनाओं को पूर्व में अंजाम दिया है। यह गुट 2019 से सक्रिय था। श्री शर्मा ने बताया कि आरोपी कैश वेन की रेकी करते थे तथा जिस एटीएम में पैसे डाल जाते थे उन्हीं एटीएम को यह लोग निशाना बनाते थे।

पुलिस ने संभावना व्यक्त की है कि इन आरोपियों के तार कहीं और भी जुड़े हो सकते हैं संभव है कि मध्य प्रदेश के अलावा किन-किन ही दूसरे राज्यों में भी उन्होंने इस तरह की वारदातों को अंजाम दिया हो आरोपियों से फिलहाल पूछताछ की जा रही है और उनसे कुछ और भी जानकारी हासिल हो सकती है इस मामले में महत्वपूर्ण बात यह है कि जब आरोपी नकली नोट स्वयं ही छापते थे तो उन्हें एटीएम से ब्लास्ट करके रुपए लूटने की आवश्यकता क्यों पड़ी और यदि वह रुपए लूट रहे थे तो नकली नोट छाप रहे थे इन दोनों बातों का गहरा संबंध हो सकता है फिलहाल पुलिस की हिरासत में हैं।
दमोह से शंकर दुबे की रिपोर्ट

वाली सरकार किया है इन ऑल क्योंकि पास से बड़ी संख्या में रुपए हत्यारे तूने ट्राई ब्रह्म की राय इस बात का खुलासा सागर की आई जी का लेन शर्मा ने किया है।
तमीम पन्ना जिले की atm में ब्लास्ट करके राशि धूप में बारिश यारों की आज पुलिस की अति चल बाय मालूम हो कि ना रुठे ने 6 मार्च को दौरा की atm निकला क्रॉस लक्षण व यारों कालू की जीत इसी तरह जैसा हुआ था ना कि ग्राम धनोता कला में 17 मई को atm में ब्लास्ट कर 20 लाख 32 यार सो रुपए लुटे थे इसकी दारु पियो ने 19 जुलाई को पन्ना जिले की सिमरिया थाना एक atm में ब्लास्ट का किला ओपन भर्ती घटना कूदी क्या सोच

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *