May 19, 2021

राजगढ़: कोरोना से दगाबाजी पड़ी दूल्हे को भारी, पचोर में शादी के 4 दिन बाद दूल्हा हुआ था कोरोना संक्रमित, अब 23 दिन बाद हुई मौत

1 0
Read Time:3 Minute, 6 Second

राजगढ़। जिले के पचोर तहसील में कोरोना संक्रमण को काबू करने के लिए बनाई गई गाइडलाइन का पालन करके शादी करने वाला एक दूल्हा शादी के चार दिन बाद ही कोरोना से संक्रमित हो गया और उपचार के दौरान 23 दिन बाद उसकी दुखद मौत हो गई. पचोर शहर के रहने वाले 25 वर्षीय युवक अजय शर्मा की शादी 25 अप्रैल को हुई. अजय की शादी राजगढ़ जिले के नरसिंहगढ़ ब्लॉक के ग्राम मोतीपुरा की रहने वाली अन्नू शर्मा के साथ हुई थी.

अन्नू का परिवार सीहोर में भी रहता है. ऐसे में शादी का आयोजन वहां के एक मंदिर में किया गया. शादी को COVID प्रोटोकॉल के तहत एक मंदिर में सीमित लोगों की मौजूदगी में ही कराया गया था लेकिन शादी के चार दिन बाद यानी 29 अप्रैल को अजय कोरोना संक्रमित हो गया. इसके बाद जांच कराने पर अजय की भाभी भी कोविड पॉजिटिव निकलीं और बाकी के अन्य परिजनों की रिपोर्ट निगेटिव आई थी. रिपोर्ट के बाद पहले प्राथमिक तौर पर अजय का इलाज कराया लेकिन बाद में उसकी तबियत ज्यादा खराब हो जाने पर उसे भोपाल ले जाया गया, जहां करीब 1 सप्ताह तक वेंटिलेटर पर रहने के बाद 17 मई को अजय ने दम तोड़ दिया.

COVID प्रोटोकॉल के अनुसार, युवक का अंतिम संस्कार भोपाल के मुक्तिधाम में कुरावर निवासी रिश्तेदारों की मदद से किया गया. कोरोना के इस भयानककाल में विवाह का जोखिम उठाने और कोरोना को हल्के में लेकर उससे दगाबाजी करने पर युवक अजय की जान चली गई. कहने को कोरोना के तमाम प्रोटोकॉल को फॉलो किया गया था लेकिन शादी में हुई थोड़ी सी लापरवाही इस।कदर महंगी पड़ गई की नवयुगल का दांपत्य जीवन शुरू होने से पहले ही खत्म हो गया.

युवक अजय के भाई त्रिलोक शर्मा व परिजन रमाकांत शर्मा ने कहा हमने कोविड प्रोटोकॉल के सभी नियमों का पालन करते हुए शादी को सम्पन्न करवाया था लेकिन फिर भी कोरोना से बच नहीं सके. हम सभी लोगों से निवेदन करते है कि कोरोना काल में किसी भी तरह की रिस्क ने ले और शादी सहित अन्य कोई भी सामूहिक आयोजन करने से बचे.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Latest Post

error: Content is protected !!