राजस्थान: दबंगो ने दलित युवक से कहा था- अगर घोड़ी पर बैठे तो गोली मार देंगे, अंत में भीम आर्मी चीफ के आवाह्न पर धूमधाम से निकली युवक की निकासी

जयपुर। हमारे देश में आजादी के इतनो सालों बाद भी समानता नहीं आई है. आज भी देश के कई ग्रामीण अंचलों में दलितों के साथ कई अन्याय अत्याचार की घटनाएं सामने आती है और यह सिर्फ ऐसा नहीं कि अनपढ़ लोगों के साथ ही होता हो पढ़े-लिखे लोग भी इस जातिवाद का शिकार हो रहे हैं. ऐसा ही एक मामला सामने आया जयपुर के समीप ग्राम विराटनगर से जहां एक दलित युवक वविनोद व उसके भाई मनोज ने जब अपनी शादी में घोड़ी पर बैठने की इच्छा जताई तो गांव के राजपूत समाज के भाइयों ने उसे फोन कर गोली से मारने की धमकी दी.

जब पूरे फोन कॉल की रिकॉर्डिंग सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो इस घटना की जानकारी भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद रावण को लगी, जिस युवक की शादी थी वह भी भीम आर्मी का कार्यकर्ता है और उसके साथ हो रहे इस तरह के उत्पीड़न को लेकर चंद्रशेखर आजाद ने राजस्थान की भीम आर्मी से कहा कि आप लोग तैयारियां कीजिए शादी में मैं खुद शामिल होने आऊंगा. जैसे ही चंद्रशेखर के राजस्थान आने की खबर पुलिस को लगी तो पुलिस प्रशासन ने आनन-फानन में धमकी देने वाले भाइयों को अपनी गिरफ्त में ले लिया और दलित युवक को अपनी सुरक्षा में रखा.

चंद्रशेखर को शादी में नहीं होने दिया शामिल

भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद रावण शादी में शामिल होने के लिए आज मंगलवार को जयपुर पहुंच गए थे लेकिन पुलिस द्वारा उन्हें विराटनगर शादी में शामिल नहीं होने दिया गया पुलिस ने हवाला दिया कि अगर चंद्रशेखर शादी में शामिल होते हैं तो वहां का माहौल भी खराब हो सकता है.

धूमधाम से निकली युवक की निकासी

वर्ष 1947 के बाद राजस्थान के इस विराटनगर गांव में आज पहली बार इतिहास टूटा है. यहां इस दलित युवक की निकासी बड़े ही धूमधाम के साथ निकली. जिसमें सैकड़ों की संख्या में भीम आर्मी व आजाद समाज पार्टी के कार्यकर्ता शामिल हुए. कार्यकर्ताओं में भरपूर जोश देखा गया. वहीं पुलिस प्रशासन ने भी अपनी तरफ से पूरी तैयारियां कर रखी थी, लगभग 200 से अधिक की संख्या में पुलिसकर्मी पूरी निकासी को कवर करते हुए चल रहे थे.

इस पूरे मामले में चंद्रशेखर आजाद रावण ने ट्वीट कर लिखा कि-आज़ादी के बाद आज तक विराटनगर, जयपुर में दलितों को घोड़ी पर चढ़ने नहीं दिया गया था. आज भीम आर्मी एवं आज़ाद समाज पार्टी के साथियों ने इस कलंक को मिटा दिया. इस ऐतिहासिक अवसर पर, मैं राजस्थान की पूरी टीम को बधाई देना चाहता हूं. संविधान में दिए सभी अधिकारों को लागू करा कर ही रुकेंगे.

वहीं मध्य प्रदेश आजाद समाज पार्टी के नेता सुनील अस्तेय ने भी ट्वीट कर लिखा- जय भीम बड़े भैया. पूरे देश दबे-कुचले लोगो को अब अपने अधिकारों के लिये पहली पंक्ति में खड़ा होना ही होगा, नहीं तो आपकी आने वाली पीढ़ी आपको भक़्शेगी नही.

भीमआर्मी/आजाद समाज पार्टी के प्रमुख @BhimArmyChief आपके साथ खड़े है.

राजस्थान के प्रमुख @Anil_aazad सहित पूरी टीम को बधाई.

You may have missed