बीवी के गहने बेच ऑटो को एंबुलेंस बनाकर लोगों की जान बचाने वाले जावेद पर मध्यप्रदेश पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

भोपाल। इन दिनों कोरोना काल में जहां एक ओर लोगों को अस्पताल जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिल रही है तो वहीं भोपाल के रहने वाले जावेद ने इंसानियत के नाते अपनी बीवी के गहने बेच अपनी ऑटो को एंबुलेंस में परिवर्तित कर लिया था. जावेद ने एंबुलेंस के अंदर ही ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था भी कर रखी थी ताकि किसी मरीज को अस्पताल ले जाते समय अगर ऑक्सीजन की आवश्यकता लगे तो उसे समय पर ऑक्सीजन उपलब्ध हो सके, जावेद इस कार्य के पैसे भी नही लेते है.

कोरोना काल में लोगों को ऑटो एंबुलेंस मदद करने वाले जावेद खान पर छोला मंदिर पुलिस थाना क्षेत्र में 188 के तहत कारवाई की गई है. जावेद को पुलिस ने नोटिस देकर छोड़ दिया है.

धारा 188 के तहत की कार्रवाई

दरअसल, जावेद अपनी ऑटो एंबुलेंस को लेकर छोला क्षेत्र से जा रहा थे. कोरोना के चलते पुलिस ने बैरिकेडिंग कर रखी थी. इस दौरान ऑटो चालक ने पुलिस से जाने की अनुमति मांगी, लेकिन पुलिस ने उसे जाने नहीं दिया. जबकि उसके ऑटो में ऑक्सीजन सिलेंडर भी मौजूद था. जावेद ऑटो लेकर अस्पताल जा रहा था. पुलिस ने उसे रोककर 188 के तहत कार्रवाई की. हालांकि बाद में पुलिस ने उसे अधिकारियों के।आदेश पर नोटिस देकर छोड़ दिया है.

टीआई अनिल मौर्य ने बताया कि हमें जानकारी नहीं थी कि वह ऑटो एंबुलेंस चला रहा है. गाड़ी में ऑक्सीजन सिलेंडर रखा हुआ था. हालांकि गाड़ी में एक भी सवारी नहीं थी इसलिए हमने उसे रोका था. उसे नोटिस देकर तत्काल छोड़ दिया गया है.