October 3, 2020

जिला निर्वाचन अधिकारी अवधेश शर्मा ने एमसीएमसी कक्ष का किया औचक निरीक्षण

आगर-मालवा। विधानसभा उप चुनाव 2020 के दौरान प्रिन्ट तथा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर पेड न्यूज की निगरानी रखने के लिए संयुक्त कलेक्टर कार्यालय भवन के द्वितीय तल के कक्ष क्रमांक 227 में स्थापित मीडिया सर्टिफिकेशन एंड मानीटरिंग (एमसीएमसी) कक्ष का शनिवार को कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अवधेश शर्मा ने औचक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया. एमसीएमसी प्रकोष्ठ का जायजा लेते समय कलेक्टर अवधेश शर्मा ने केबल नेटवर्क पर प्रसारित होने वाले विज्ञापनों की मॉनिटरिंग करने एवं रिकार्डिंग रखने को लेकर की गई व्यवस्था के संबंध में पूछताछ की. उन्होंने कक्ष में पृथक से एक निरीक्षण टीप पंजी मेंटेन करने के निर्देश दिए व एमसीएमसी कक्ष से हो रहे कार्यो की विस्तारपूर्वक जानकारी ली.

निरीक्षण के दौरान सीईओ जिला पंचायत दीतूसिंह रणदा, रिटर्निंग अधिकारी राजेन्द्र सिंह रघुवंशी, एमसीएमसी सदस्य बंसत गुप्ता सहित एमसीएमसी टीम के सदस्य उपस्थित थे.


मीडिया सर्टीफिकेशन एवं मॉनिटरिंग कमेटी की बैठक सम्पन्न

जिला स्तरीय मीडिया सर्टीफिकेशन एवं मॉनिटरिंग (एमसीएमसी) कमेटी की बैठक कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अवधेश शर्मा की अध्यक्षता में कलेक्टर कक्ष में 03 अक्टूबर, शनिवार को सम्पन्न हुई. बैठक में आगामी विधानसभा उप निर्वाचन के लिए मीडिया सर्टिफिकेशन एवं पेड न्यूज चिंहित करने के लिए की जाने वाली प्रक्रिया निर्धारित करने पर विचार विमर्श किया गया. बैठक में समिति के सदस्य मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत दीतूसिंह रणदा, उप जिला निर्वाचन अधिकारी अशफाक अली, रिटर्निंग अधिकारी राजेन्द्र सिंह रघुवंशी, वरिष्ठ पत्रकार बसंत गुप्ता, जिला प्रबंधक ई-गवर्नेंस अरविन्द कुशवाह, सहायक रिटर्निंग अधिकारी दिनेश सोनी, सदस्य सचिव अनुराधा गहरवाल उपस्थित रही.

बैठक में विचार-विमर्श कर निर्णय लिया गया की एमसीएमसी कमेटी द्वारा स्थानीय स्तर पर प्रकाशित होने वाले समाचार पत्र, राज्य स्तर से प्रकाशित होने वाले समाचार पत्र एवं राष्ट्रीय स्तर से प्रकाशित होने वाले समाचार पत्रों में प्रकाशित होने वाले राजनीतिक प्रकार के विज्ञापनों एवं पेड न्यूज की मॉनिटरिंग की जाएगी। आगर-मालवा जिले के विधानसभा क्षेत्र आगर के लिए इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रसारित होने वाली पेड न्यूज की मॉनिटरिंग एवं विज्ञापनों के सर्टिफिकेशन का कार्य भी समिति द्वारा किया जाएगा. इस हेतु आगर-मालवा जिले में बहुतायत से दिखने वाले स्थानीय चैनलों की मानिटरिंग करने का निर्णय लिया गया.
इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के विज्ञापनों के सर्टिफिकेशन के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित की गई नीति अनुसार ही सर्टिफिकेशन का कार्य समिति द्वारा किया जाएगा. बिना सर्टिफिकेशन के यदि कोई विज्ञापन प्रसारित होना पाया गया तो इसके लिए कमेटी द्वारा रिटर्निंग अधिकारी को आवश्यक कानूनी कार्रवाई करने के लिए प्रकरण प्रस्तुत किया जाएगा. विज्ञापनों के सर्टिफिकेशन के लिये निर्धारित प्रपत्र में आवेदन मीडिया सेंटर संयुक्त कलेक्टर कार्यालय के द्वितीय तल पर कक्ष क्रमांक 227 में प्राप्त किये जायेंगे।.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post