September 29, 2020

एकता नगर के 21 वर्षीय युवा का चार बार असफलता के बाद हुआ सेना में चयन, क्षेत्रवासियों ने किया सम्मान, आशीर्वाद देकर ट्रेनिंग पर भेजा

मातृभूमि की रक्षा के लिए आज सिकंदराबाद रवाना हुआ लाल माटी का लाल प्रशांत

आगर मालवा। जीवन सुधार के लिए सुविचार अक्सर प्रवचन के साथ आजकल मोटिवेशनल भाषण एवं किताबों सोशल मीडिया पर देखने व पढ़ने को मिलते हैं. जिन्हें कहना और सुनना तो अच्छा लगता है मगर बहुत कम ही लोग हैं जो इन विचारों का अनुसरण अपने जीवन में करते है और अमल करते हुए उस राह पर चलते हैं. कहा जाता है कि कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती इस बात को साबित किया आगर-मालवा के एकता नगर निवासी 21 वर्षीय युवा प्रशांत पंवार ने.

बचपन से ही भारतीय सेना में जाने का लक्ष्य बनाकर प्रयासरत रहने वाले प्रशांत बताते हैं कि स्कूल के समय से ही मैंने अपना लक्ष्य निर्धारित कर रखा था मैंने अपनी दिनचर्या को उसी स्वरूप में ढाल रखा था जो मुझे लक्ष्य तक पहुंचाने में सहायक साबित हो.

दिनचर्या के अनुसार समय पर जागना,पढ़ाई के साथ शारीरिक अभ्यास,संतुलित आहार आदि का ईमानदारी से पालन किया. समय-समय पर गुरुजनों, माता-पिता और सेना से जुड़े अनुभवी लोगों का मार्गदर्शन लेता रहा किंतु फिर भी प्रयासों में कहीं ना कहीं कमी और भाग्य के साथ ना होने के चलते लक्ष्य के नजदीक पहुंचते-पहुंचते चार बार असफलता मिली ओर पांचवी बार के प्रयास के बाद अंततः भारतीय सेना में टेक्निकल क्षेत्र में सफलता मिली. गौरतलब है कि भारतीय सेना में चयनित हुए प्रशांत गोपाल पंवार कई बार लिखित परीक्षा पास कर चुके हैं मगर कभी मेडिकल तो कहीं कुछ अन्य बाधाओं के चलते निराशा हाथ लगी मगर थक-हारकर घर बैठने की बजाए निरंतर अपने प्रयासों को और मजबूत कर अपनी जीत को सुनिश्चित करते चले गए ओर अपने लक्ष्य में बाधक बन रहे नकारात्मक परिणाम को दूर करने के लिए तन मन से मेहनत करते रहे.

प्रशांत के पिता शिक्षक गोपाल पवांर बताते हैं कि मेरे बड़े बेटे प्रशांत को बचपन से ही भारतीय सेना में जाने की लगन थी बच्चे की लगन और हार्दिक इच्छा को ध्यान में रखते हुए हमारे द्वारा पूरा सहयोग और मार्गदर्शन दिया गया. बार-बार मिल रही असफलताओं के बाद भी छोटी सी उम्र में उसके देश सेवा के जज्बे को ध्यान में रखते हुए उसका मनोबल बढ़ाया गया, उत्साहवर्धन किया गया ताकि बच्चों को निराशा और हताशा अपने घेरे में ना ले सके. हमें खुशी है कि हमारे बेटे को देश की सेवा का सौभाग्य मिला परिवार सहित सभी शुभचिंतक प्रसन्न है कि बच्चे की मेहनत रंग लाई. प्रशांत को आज परिजनों, गुरुजनों, इष्ट मित्रों की मंगल कामनाओं के साथ बाबा बैजनाथ का आशीर्वाद लेकर मातृभूमि की रक्षा के लिए प्रशिक्षण हेतु सिकंदराबाद के लिए रवाना किया.

लालमाटी के लाल की इस सफलता पर एकता नगर सहित क्षेत्र के समस्त शुभचिंतकों ने शुभकामनाएं प्रेषित की. छोटी सी उम्र में सफलता पाकर युवा प्रशांत ने अपने क्षेत्र जिले विद्यालय का नाम गौरवान्वित किया है. आज एकता नगर कॉलोनी मित्र मंडली द्वारा एक सम्मान समारोह का आयोजन रखा गया. जिसमे क्षेत्रवासियों ओर शुभचिंतकों ने प्रशांत का फूलमाला पहनकर सम्मान किया. परिजनों, शिक्षकों ओर बुजुर्गों ने प्रशांत को आशीर्वाद देकर आगे की आर्मी ट्रेनिंग के लिए सिकंदराबाद रवाना किया.

इस अवसर पर अतिथि संस्कार एकेडमी के डॉ पंकज अटल, शिक्षक मुकेश गवली व भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष अजय जैन मारुबल्डिया, विजय रायकवार ने प्रशांत को आशीर्वाद दिया व शुभकानाएं प्रेषित की. वही शिवनारायण भिलाला, सोनार सिंह भिलाला, प्रदीप सोनी, राजेंद्र सिंह भिलाला, कमल भिलाला, पवन शर्मा, पवन राठौर, अंकुर श्रीवास, आशिष भावसार, योगेश शर्मा, दिलीप परिहार, दर्शन सिंह राजपूत, अंशुल भावसार, सहित कालोनीवासी भी मौके पर उपस्थित थे. उपरोक्त जानकारी एकता नगर कॉलोनी के अंकित सिंह तोमर ने दी.

भारतीय सेना में चयनित प्रशांत के छोटे भाई रक्षांत कहते हैं कि में भी भारतीय सेना में जाना चाहता हूं. मेरा प्रयास भी निरंतर जारी है. बड़े भाई के प्रयासों को मिली सफलता से मेरे मनोबल में वृद्धि हुई है समय-समय पर गुरुजनों माता-पिता एवं सहयोगियों का मार्गदर्शन मिलता रहता है. रक्षांत ने बात दोहराते हुए कहा की कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *