November 1, 2020

मध्यप्रदेश में विधायकों के जमीर की मृत्यु होने पर उपचुनाव की नौबत आई है: कमलनाथ

देवास। मध्यप्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर चुनाव प्रचार अपने अंतिम चरण में है। शनिवार को प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, हाटपीप्ल्या विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार, राजेंद्र सिंह बघेल के समर्थन में जनसभा को सम्बोधित करने बरोठा पहुँचे और उन्होंने अपने सम्बोधन में भाजपा और शिवराज पर जमकर निशाना साधा। कमलनाथ ने जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा, बाबा साहब के लिखे गए संविधान में यह लिखा गया है कि जब किसी विधायक या सांसद की मृत्यु हो जाती है तब उपचुनाव की नोबत आती है परंतु मध्य प्रदेश में इन विधायकों के ज़मीर की मृत्यु होने पर उपचुनाव की नोबत आयी है। यह सरकार हम से 15 महीनों का हिसाब माँगती है मगर इनसे हम पंद्रह साल का हिसाब माँगते हैं तो यह चुप हो जाती हैं। शिवराज की सरकार ने हर वर्ग के लोगों को नुक़सान के अलावा कुछ नहीं पहुँचाया। रोज़गार, शिक्षा, कृषि, बिजली, पानी की समस्याओं का समाधान करने की जगह और अन्नदाता पर झूटे मुक़दमे लगा कर प्रदेश का सर्वनाश कर दिया।

अगर किसी ने प्रदेश की जनता का लोकतंत्र पर से भरोसा उठाया है तो वह शिवराज और महाराज ने। शिवराज ने सरे आम भारत के संविधान का, लोकतंत्र का मज़ाक़ उड़ाते हुए प्रदेश की जनता के मतों के साथ खिलवाड़ करा है।

2018 में कोंग्रेस सरकार ने सत्ता में आते ही पहला फ़ैसला किसानो के हित में लेकर, 2 लाख तक का क़र्ज़ माफ़ करा है। बिजली 100 रूपे प्रति 100 यूनिट करी है। युवाओं के रोज़गार के लिए देश के बड़े-बड़े उध्योगपती को बुलाकर प्रदेश में निवेश करवाया। जितनी देश भर में गोशलाऐं है उस से कहीं ज़्यादा हमने सिर्फ़ मध्य प्रदेश में 11 महीनो में बनवायी है और शिवराज हमसे हमारे कार्यकाय का हिसाब माँग रहे है।

स्टार प्रचारक की सूची से चुनाव आयोग द्वारा नाम हटाने पर कमलनाथ ने चुटकी लेते हुए कहा की मैं जनता का सेवक हूँ, मुझे अपनी बात जनता के सामने रखने के लिए किसी स्टार प्रचारक का पद नहीं चाहिए, मैं तो सेवक हूँ मैं तो रोड पर भी अपनी बात लोगों तक पहुँचा दूँगा। मेरी पार्टी का मैं प्रचारक हूँ और मेरी प्रचारक मेरी जनता है।

3 नवम्बर को होने वाले उपचुनाव के लिए कमलनाथ के साथ आचार्य प्रमोद कृष्णन, नकुलनाथ, सज्जन सिंह वर्मा, जीतू पटवारी, कुणाल चौधरी ऐंव अन्य वरिष्ठ कोंग्रेस नेता ऐंव कार्यकर्ता मोजुद थे।

आचार्य प्रमोद कृष्णन ने कमलनाथ के समर्थन में दिए गए भाषण में कमलनाथ को हनुमान का भक्त बताते हुए कमलनाथ की जमकर तारीफ़ करी ऐंव क्षेत्र की जनता से कोंग्रेस पार्टी के विधायक उम्मीदवार, राजवीर सिंह को जीताने के अपील करी। आचार्य जी ने शिवराज सिंह को कंस मामा के समान बताया जो अपने निजी स्वार्थ के लिए प्रदेश का विनाश करना चाहता है।

अंत में नकुलनाथ ने जनता को सम्बोधित करते हुए फिर से प्रदेश में कोंग्रेस की सरकार बनाने के लिए राजवीर सिंह को भारी मतों से विजय बनाने की अपील करी।

समर्थ जोशी✍️

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *