ग्राम निपानिया बैजनाथ में हुए अंधे कत्ल का एसपी ने किया खुलासा: अवैध संबंध के चलते मृतक के साडू ने क्राइम पेट्रोल देखकर रची थी हत्या की साजिश

आगर-मालवा, विजय बागड़ी जिला मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम निपानिया बैजनाथ में 1 दिसंबर 2021 को रात के समय नूर मोहम्मद की उसी के घर में घुसकर गला रेतकर अज्ञात हमलावरों द्वारा हत्या कर दी गई थी, जिला मुख्यालय के इतने करीब हुए इस अंधेकत्ल के मामले में पुलिस अधीक्षक ने चार दल बनाकर जांच शुरू की, आखिर हत्या के 3 हफ्ते बीत जाने के बाद कोतवाली पुलिस ने इस मामले का खुलासा कर दिया और घटना को अंजाम देने वाले मृतक के साडू और साडू के चचेरे भाई को गिरफ्तार कर लिया है.

एसपी राकेश कुमार सगर ने प्रेसवार्ता आयोजित कर इस सनसनीखेज हत्याकांड के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मृतक नूर मोहम्मद की तीन शादियां हुई थी, मृतक की तीसरी पत्नी रानी की छोटी बहन जरीना से मृतक के शारीरिक संबंध थे, जरीना की शादी बड़ौद के सोहेल खान से करीब डेढ़ साल पहले हुई थी, प्रेम संबंध की जानकारी मृतक ने खुद अपनी साली की सुहागरात पर अपने साडू को फोन लगाकर दी थी और कहा था कि वह जरीना से दूरी बनाए रखे नही तो अच्छा नही होगा. उसी दिन से मृतक का साडू परेशान था, आरोपी ने कई बार समझाया लेकिन मृतक अपनी हरकतों से बाज नही आ रहा था.

जब 1 दिसम्बर को मृतक और आरोपी की पत्नी अपने मायके गंगापुर में आयोजित एक कार्यक्रम में गई हुई थी और मृतक के घर पर अकेले होने की जानकारी आरोपी सोहेल को थी, इसी मौके का फायदा उठाकर सोहेल अपने चचेरे भाई जाफर को साथ लेकर बाइक से मृतक के घर पहुंचा और धारदार हथियार से गला रेत कर उसकी हत्या कर फरार हो गया.

मामले की गहन जांच के बाद आखिर पुलिस हत्यारों तक पहुंच गई, आरोपी सोहेल ने पुलिस को बताया कि उसने क्राइम पेट्रोल देखकर हत्या की साजिश रची थी, बडौद से निकलते ही उसने अपना मोबाइल बन्द कर दिया ताकि पुलिस ट्रेस ना कर पाए, वहीं घटना के बाद हथियार और एक ग्लब्ज भी जंगल में फेंक दिया, इसके बाद अपनी दुकान पहुंचकर मोबाइल चालू किया और इसके बाद खून से सने कपड़े जला दिए.

पुलिस ने घटना स्थल से एक ग्लब्ज जब्त किया था, आरोपी सोहेल की निशानदेहि पर हत्या में इस्तेमाल किया गया धारदार हथियार, जैकेट, एक ग्लब्ज और बाइक जब्त कर ली है, वहीं हत्या में आरोपी का साथ देने वाला उसका चचेरा भाई भी गिरफ्त में आ चुका है.

प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद एसपी राकेश कुमार सगर, एडिशनल एसपी नवलसिंह और अन्य पुलिसकर्मियों का मृतक के परिजनों और ग्रामीणों ने पुष्पवर्षा कर और गुलाब के फूल भेंट कर सम्मान किया और पुलिस प्रशासन जिंदाबाद के नारे लगाए…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Do not copy content thank you