August 25, 2020

राजगढ़ जिले का मस्तक गर्व से ऊंचा कर गया शहीद मनीष, सीएम ने दी श्रद्धांजलि

राजगढ़। देश की सरहद पर निगेहबानी करते जवान दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं, वहीं जम्मू कश्मीर के बारामुला सेक्टर में आतंकवादियों से हुई मुठभेड़ में राजगढ़ जिले के मनीष कारपेंटर ने अपने प्राणों का बलिदान दिया है जिससे राजगढ़ जिले के समस्त निवासियों का मस्तक गर्व से ऊंचा हो गया है. कई आँखे उनकी यादों में नम है। भारत माता के वीर सपूत का पार्थिव शरीर मंगलवार को बारामुला से आना था लेकिन कुछ अपरिहार्य सैन्य कारणों से उनमे विलम्ब हुआ है.

शहीद मनीष का पार्थिव शरीर आज मंगलवार रात्रि या फिर कल बुधवार की सुबह तक खुजनेर पहुँचेगा जहाँ उन्हें पूरे शहीद सम्मान के साथ पंचतत्व में विलिन किया जाएगा. स्थानीय प्रशासन द्वारा इस सम्बंध में आवश्यक तैयारियां की जा रही है वही अनुमान लगाया जा रहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्वयं शहीद के अंतिम संस्कार में शामिल हो सकते है लेकिन अब तक इसकी कोई आधिकारिक घोषणा नही की गई है.

9 माह पहले ही हुआ था विवाह

खुजनेर के सपूत मनीष का विवाह लगभह 9 माह पहले शुजालपुर के ग्राम निपानियातुला की बेटी आरती के साथ हुआ था। धूमधाम के साथ हुए इस विवाह की यादें ओर अंतिम बार पति मनीष को बॉर्डर पर भेजने का दृश्य रह-रहकर आरती को याद आ रहे है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भारत माता के वीर सपूत शहीद मनीष को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए लिखा कि राजगढ़ के खुजनेर की माटी के लाल, वीर सपूत मनीष कारपेंटर जी कश्मीर के बारामूला में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गये।

ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं। मध्यप्रदेश को अपने वीर सपूत पर गर्व है।

वही पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट करते हुए लिखा कि कश्मीर के बारामूला में आतंकी हमले में घायल मध्यप्रदेश के राजगढ़ के खूजनेर के वीर सपूत मनीष कारपेंटर के शहीद होने का समाचार बेहद दुःखद है।
परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ।
ऐसे वीर सपूतों पर पूरे प्रदेश को , प्रदेश को गर्व है , इन वीर सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post