इधर बिजली गुल- उधर मरीजों की अटकी सांसे! आगर जिला चिकित्सालय व कोविड वार्ड में बिजली चले जाने के कारण 1 घण्टे तक मौत से खेलते रहे कोविड पेशेंट

आगर-मालवा। आज रविवार को करीब शाम 7:00 बजे बाद जिला चिकित्सालय में ट्रामा सेंटर की बिजली अचानक गुल हो जाने से कोविड वार्ड में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन से अपना जीवन बचा रहे कोरोना संक्रमित मरीजों की जान पर बन आई. इस दौरान मरीजों के परिजन ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए इधर-उधर भाग-दौड़ करते रहे हालांकि इस दौरान कोई हताहत नहीं हुई लेकिन मरीजों के परिजन अपने मरीजों की जान को लेकर काफी बुरी तरह से डर गए. करीब 1 घण्टे बिजली गुल रहने के बाद आई तब कही जाकर मरीजों को ऑक्सीजन की सप्लाई ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर से दी जा सकी.

गंभीर मरीजों का ऑक्सीजन लेवल हुआ कम

बता दें कि बिजली जाने के बाद मरीजों के साथ ही उनके परिजन भी काफी घबरा गए थे. वहां भर्ती एक मरीज के परिजन के अनुसार, बिजली जाने के बाद वार्ड में हल्की-फुल्की अफरा-तफरी मच गई. परिजन मरीजों का ऑक्सीजन लेवल जांचने में जुट गए. वही काफी मरीजों का ऑक्सीजन लेवल नीचे गिरते हुए 50 से 60 पर आ गया. ऐसी स्थिति में घबराए हुए परिजन ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए अस्पताल में इधर-उधर भागते रहे लेकिन उनको ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं मिल पाया. बिजली गुल होते ही वार्ड में तैनात चिकित्सक मरीजों की स्थिति सुधारने के प्रयास में जुट गए थे.

खराब मौसम के कारण गुल हुई थी बिजली

बता देगी देर शाम मौसम अचानक परिवर्तित हुआ और आसमान में घने बादल छाने के साथ ही बारिश होने लगी व बिजली की तेज गड़गड़ाहट आरंभ हो गई. इन दौरान पूरे शहर की बिजली भी कुछ समय के लिए गुल हो गई थी.