September 7, 2020

खराब फसल के सर्वे की मांग को लेकर पूर्व प्रभारी मंत्री जयवर्धन सिंह के साथ सैकड़ो कांग्रेसियों ने घेरा कलेक्ट्रेट

आगर-मालवा। क्षेत्र में खेतों में खड़ी सोयाबीन की फसल में निर्मित हुई अफलन की स्तिथि ओर पीलेपन के कारण खराब हुई फसल के मुआवजे की मांग को लेकर जिले के पूर्व प्रभारी मंत्री जयवर्धन सिंह सड़क पर उतर गए और गांधी उपवन से अपने सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ रैली निकालकर कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां उन्होंने राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन संयुक्त कलेक्टर अशफाक अली को सौंपा है।

ज्ञापन में मांग की गई कि वर्तमान में किसानों की सोयाबीन की फसल भारी मात्रा में खराब हुई है। प्रशासन ने अभी तक किसानों की खराब हुई फसल का सर्वे कार्य आरंभ नहीं करवाया है। फसल का सर्वे करवाकर उचित मुआवजा दिया जाए. वहीं वर्ष 2018 में किसानों की खराब हुई फसल का बीमा राशि भी कई किसानों को नहीं मिली है वह बीमा राशि भी किसानों को जल्द से जल्द दी जाए।

ज्ञापन दिए जाने के दौरान जयवर्धन सिंह व अन्य कांग्रेस नेताओं ने अधिकारी को मौके पर ही समस्या के निराकरण करने के लिए घेर लिया ऐसे में अधिकारी ने भी कल से ही सर्वे कार्य करवाने की बात कही।

बता दें कि कांग्रेस की रैली जैसे ही कलेक्टर कार्यालय पहुंची वैसे ही कांग्रेस के युवा नेता ताली बजाते हुए कलेक्टर कार्यालय के अंदर घुसने की कोशिश करने लगे। वहां तैनात पुलिसकर्मियों को कांग्रेसियों को हटाने के लिए काफी मशक्कत करना पड़ी। कांग्रेसियों की तरफ से काफी जमकर धक्का-मुक्की भी की गई। अधीक्षक भू-अभिलेख राजेश सरवटे इस धक्का-मुक्की का शिकार हो गए जैसे-तैसे पुलिसकर्मियों ने उन्हें कांग्रेसियों के बीच से निकाला। बता दें कि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की भी जमकर धज्जियां उड़ाई गई। इस अवसर पर एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष विपिन वानखेड़े, कांग्रेस जिलाध्यक्ष बाबूलाल यादव सहित सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post