इंदौर में कोरोना के ब्रिटिश वैरिएंट की हुई एंट्री : छः मरीजों में पाया गया नया स्ट्रेन, विदेश गए बगैर हुए संक्रमित

इंदौर में कोरोना के 6 मरीजों में मिला UK वैरिएंट

●दिल्ली से आई जांच रिपोर्ट में इसकी पुष्टि हुई

कोरोना मरीज इसी तरह बढ़ते रहे तो जल्द नाइट कर्फ्यू लगाने पर होगा विचार


इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में 6 लोगों में कोरोना का ब्रिटिश वैरिएंट मिलने से हड़कंप मच गया है. इन लोगों के विदेश जाने की भी कोई जानकारी नहीं है. इसके बावजूद ये कैसे यूके वैरिएंट की चपेट में आए, डॉक्टरों के लिए यह काफी हैरान करने वाले मामला है. शहर में बढ़ते मरीजों को देखते हुए नाइट कर्फ्यू लगाए जाने के आसार हैं.

इंदौर के नोडल कोविड अधिकारी अमित मालाकार ने बताया कि पिछले माह 106 सैंपल जांच के लिए दिल्ली भेजे गए थे. इनमें से 6 मरीजों में कोरोना के ब्रिटेन में मिले नए वायरस की पुष्टि हुई है. ये मरीज 10 से 15 फरवरी के बीच कोरोना संक्रमित हुए थे.


वेबसाइट पर विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें: 7049469012

इंदौर के दो लोगों में पहले भी यूके स्ट्र्रेन मिलने की पुष्टि हुई थी, हालांकि ये दोनों विदेश यात्रा कर लौटे थे. नए मामले चूंकि विदेश यात्रा से नहीं जुड़े हैं, इसलिए हैरान करने वाले हैं. जो 6 लोग यूके स्ट्रेन से संक्रमित मिले हैं, उनमें बच्चे व अधेड़ उम्र के लोग हैं.

इंदौर में यूके स्ट्रेन मिलना काफी चिंताजनक है, क्योंकि यह बहुत तेजी से फैलता है. इसलिए इससे बचाव के उपाय करना जरूरी होंगे. इंदौर के संभागायुक्त डॉ. पवन शर्मा ने कहा कि अब रोको-टोको अभियान काे ज्यादा ताकत से लागू किया जाएगा. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस पर सख्ती बरतने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं.

अधिकारियों का कहना है कि शहर के हालात पर अगले कुछ दिन नजर रखी जाएगी. यदि संक्रमण बढ़ा तो नाइट कर्फ्यू लगाने पर विचार किया जाएगा.