December 26, 2020

रीवा में मंदिर गिराने का ब्राह्मण समाज ने किया विरोध


दमोह से शंकर दुबे की रिपोर्ट

रीवा में भगवान परशुराम एवं अन्य मंदिरों को गिराए जाने के विरोध में ब्राह्मण समाज ने आज मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन कलेक्टर को सौंपा।


ब्रह्मण समाज ने आज मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन में रीवा के इटावा क्षेत्र में भगवान परशुराम, हनुमान जी, शनिदेव महाराज एवं अन्य मंदिरों, संत कुटिया एवं गौशाला को गिराए जाने पर रोष प्रकट किया है। ब्राह्मण समाज के पंडित बृजेश शास्त्री ने कहा कि लगातार ही संत एवं ब्राह्मणों पर द्वेषपूर्ण हमले किए जा रहे हैं। रीवा में जहां एक ओर मंदिर गिरा दिया गया, वहीं दूसरी ओर दमोह जिले की खौजा खेड़ी शाला के महंत पर कातिलाना हमला एवं पेट्रोल डालकर जिंदा जलाने का कुत्सित प्रयास किया गया है। इससे समस्त ब्राम्हण एवं हिंदू समाज आहत है। पंडित मनोज देवलिया एवं पंडित आलोक मुखरैया ने कहा कि रीवा में विधायक नागेंद्र सिंह द्वारा द्वेष भावना के कारण मंदिर एवं संत कुटिया गिरवाई गई है। जो कि अनुचित है। प्रशासन द्वारा की गई कार्यवाही पूरी तरह राजनीति से प्रेरित एवं ब्राह्मण एवं हिंदू समाज पर हमला है।

ब्राह्मण समाज ने आरोप लगाया है कि रीवा क्षेत्र के विधायक नागेंद्र सिंह ने जबरन मंदिर एवं आश्रम गिरवाया है। क्योंकि उनकी वहां पर जमीन है तथा वह उस पूरी जमीन पर कब्जा करना चाहते हैं। यदि शीघ्र ही वहां पर पुनः मंदिर एवं आश्रम का निर्माण नहीं किया गया तो समूचे क्षेत्र में ब्राह्मण समाज आंदोलन करेगा। इस अवसर पर मनीष तिवारी, रिंकू गोस्वामी, जमुना चौबे, आशीष राजोरिया, बृजेश गर्ग, सतीश तिवारी, उमेश शास्त्री, शिवाशीष पांडे, मोंटी शर्मा, भोला शर्मा, तनुज पाराशर, सुशील दुबे, श्रवण पाठक, अनुराग मिश्रा सहित बड़ी संख्या में ब्राह्मण समाज के लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Post