खाद्य विभाग की बड़ी कार्रवाई, 4 क्विंटल से अधिक दूध, मावा व पनीर किया नष्ट



दमोह से शंकर दुबे की रिपोर्ट

अनहाइजीनिक तरीके से बनाए जा रहे डेयरी प्रोडक्ट आज खाद्य विभाग की टीम ने हटा पुलिस के सहयोग से जप्त किए। मामला हटा तहसील के ग्राम बनगांव का है।
हटा तहसील के ग्राम वनगांव में लंबे समय से दूध डेयरी की आड़ में बनाए जा रहे डेयरी प्रोडक्ट को जप्त एवम् नष्ट करने की कार्यवाही को खाद्य विभाग की टीम ने अंजाम दिया है। जिला खाद्य अधिकारी राकेश अहिरवाल, खाद्य निरीक्षक श्रीमती माधवी बुधौलिया एवं हटा टी आई दीपक खत्री अपनी टीम के साथ आज दोपहर बनगांव पहुंचे । जहां उन्होंने सिद्धि डेयरी के नाम से संचालित एक फर्म में छापा मारा।

क्या हुई कार्यवाही

सिद्धि डेयरी में बड़े पैमाने पर अनहाइजीनिक तरीके से बनाए जा रहे डेरी प्रोडक्ट को जप्त किया एवं नष्ट किया। खाद्य अधिकारी राकेश अहिरवाल एवं खाद्य निरीक्षक माधवी बुधौलिया ने बताया कि डेयरी का संचालन आशीष श्रीवास्तव के द्वारा किया जाता है। शिकायत मिली थी कि इनके द्वारा अनहाइजीनिक तरीके से प्रोडक्ट का निर्माण किया जा रहा है। जब वहां पर देखा तो दूध मावा, पनीर इत्यादि पर काफी मक्खियां भिनभिना रही थी तथा जहां-तहां खुले में सारा डेरी प्रोडक्ट रखा हुआ था। साथ ही गंदगी भी वहां पर बहुत अधिक थी। इस तरह के खाद्य पदार्थों से बीमारियां फैलती हैं तथा यह खाने की योग्य नहीं रहता है । इसे देखते हुए 324 लीटर दूध, 12 किलोग्राम मावा तथा 120 किलोग्राम पनीर को मौके पर ही नष्ट कराया गया जिसका बाजार मूल्य करीब 38 हज़ार है। इसी तरह 345 किलोग्राम क्रीम तथा 40 किलोग्राम घी जप्त किया गया जिसका बाजार मूल्य करीब ₹13 लाख 33 आंका गया है।

अधिकारियों ने बताया कि 5 सैंपल लिए गए हैं जिन्हें जांच के लिए भेजा जाएगा । वही डेयरी संचालक का कहना था कि यह सारे प्रोडक्ट उसने सही प्रकार से बनाए हैं तथा इनमें किसी तरह की कोई मिलावट इत्यादि नहीं है। जबकि खाद्य विभाग का कहना है कि जितना प्रोडक्ट जप्त हुआ है उसी अनुपात में डेयरी में दूध का उत्पादन होना प्रतीत नहीं होता है। मालूम हो कि शहर तथा जिले भर में इस तरह की एक नहीं बल्कि दर्जनों डेरिया संचालित है वहां भी इसी तरह से तरीके से प्रोडक्ट बनाकर बाजार में बेचने का गोरखधंधा चल रहा है लेकिन कार्यवाही यदा-कदा ही हो पाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *