अंबेडकर को होना था भारत का पहला प्रधानमंत्री, साजिश से बन गए पंडित नेहरु

भोपाल। मध्यप्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बड़ा बयान देते हुए यह कह दिया कि आजाद भारत का पहला प्रधानमंत्री संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को होना चाहिए था. लेकिन पंडित जवाहरलाल नेहरू साजिश के तहत खुद प्रधानमंत्री बन गए. दरअसल विश्वास सारंग अन्ना नगर में बाबा साहेब अंबेडकर की प्रतिमा का लोकार्पण करने पहुंचे थे.


साजिश के तहत प्रधानमंत्री बने थे जवाहर लाल नेहरू

मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को आजाद भारत का पहला प्रधानमंत्री होना था लेकिन पंडित जवाहरलाल नेहरु साजिश के तहत प्रधानमंत्री बने और डॉक्टर अंबेडकर को प्रधानमंत्री नहीं बनने दिया गया. उन्होंने कहा कि अगर डॉक्टर भीमराव अंबेडकर आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री होते तो आज देश का स्वरूप ही अलग होता.


अन्ना नगर में अंबेडकर की प्रतिमा का लोकार्पण

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने अशोका बौद्ध विहार समिति की ओर से अन्ना नगर चौराहे पर स्थापित की गई डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा का लोकार्पण किया. इसके साथ ही विश्वास सारंग ने समिति की मांग पर यह ऐलान भी किया कि अब से अन्ना नगर चौराहे का नाम संविधान चौक होगा. इस चौराहे के नाम का उल्लेख संविधान चौराहे शब्द से ही किया जाएगा. वहीं विश्वास सारंग ने कहा कि जल्द ही चेतक ब्रिज चौराहे पर भी भगवान बुद्ध की प्रतिमा स्थापित की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Do not copy content thank you