May 6, 2020

शुभ मुहूर्त के आगे हारा कोरोना!

लॉकडाउन में अनोखी शादी.

छतरपुर से अवनीश चौबे की रिपोर्ट..

छतरपुर: वैसे तो लॉकडाउन ने जिंदगी की रफ्तार को रोक कर बहुत से लोगों की खुशियों पर पानी फेर दिया है. मगर ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने मुहूर्त के आगे कोरोना को भी हरा दिया ।
दूल्हा बने बेटे के पिता छतरपुर पुलिस अधीक्षक के रीडर एवं पूर्व यातायात प्रभारी केपीएस परिहार ने बताया कि उनके बेटे इंजीनियर शशांक परिहार की शादी बैंगलोर की बेटी रश्मि के साथ तय की थी शादी 6 मई को निर्धारित थी मगर वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण न बेटा छतरपुर आ पाया और न ही वे बैंगलोर जा पाए।

बड़े भाई ने निभाई पिता की जिम्मेदारी

क्योंकि श्री परिहार का बेटा शशांक आईआईटी इंजीनियर है तो शादी में भी टेक्नोलॉजी का सहारा लिया गया । मगर दुल्हा बने बेटे को अपनी शादी में माता पिता की कमी रास नहीं आ रही थी, तब बड़े भाई मयंक जो कि बैंगलोर में ही एक बड़ी कंपनी में सीनियर मैंनेजर हैं, उन्होंने छोटे भाई की शादी में पिता की भूमिका निभाई और शशांक के साथ उसके 5 दोस्तों को लेकर बैंगलोर में रश्मि के घर बारात लेकर पहुंचे और पिता की सारी रस्मे खुद निभाई और यहां छतरपुर में बैठे माता पिता ने पंडित अखिलेश पाठक के साथ पूरे वैदिक मंत्रोच्चारण के लिए वीडियो कॉल पर रश्में पूरी कराई, एवं पिता केपी सिंह परिहार माता श्रीमती सरोज परिहार ने वर-वधू को वीडियो कॉल पर ही आशीर्वाद दिया ।
लॉकडाउन के दौरान जनता की सेवा में लगे रहे कर्तव्य निष्ठ पुलिस अधिकारी के बेटे की शादी चर्चा का विषय रही.
चर्चा के दौरान श्री परिहार ने बताया कि लॉकडाउन तो एक न एक दिन खुल ही जायेगा और तब बेटा बहू घर भी आ जाएंगे लेकिन शुभ मुहूर्त बार-बार नहीं मिलते इसलिए शादी की सारी रश्में वीडियो कॉल के माध्यम से पूरी कर के शुभ मुहूर्त में ही शादी संम्पन्न कराई।

“बेटे की शादी का माता पिता ने लिया वीडियो कॉल पर आनंद”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *