भगवान भरोसे चल रहा आगर थाना, कड़ाके की ठंड में FIR दर्ज करवाने के लिए रात भर थाने के बाहर बैठा रहा पूर्व विधायक का परिवार

आगर-मालवा। यूं तो पुलिस आम जनता की सेवा के लिए होती है लेकिन आगर जिले की पुलिस आम जनता की नहीं असामाजिक तत्वों की सेवा करने में लगी हुई है. यहां पूर्व विधायक रामलाल मालवीय के परिजन रात भर कोतवाली थाने के बाहर बैठे रहे सिर्फ इसलिए क्योंकि आगर थाना प्रभारी द्वारा उनकी एफआईआर दर्ज नहीं की गई.

पूर्व विधायक रामलाल मालवीय के पुत्र प्रकाश मालवीय ने बताया कि वह उनके खेत पर बैठे हुए थे तभी आरोपी कालूसिंह पिता धन्नालाल यादव, राजकुमार पिता कालूसिंह यादव, दीपक पिता कालूसिंह यादव, मनोज यादव व पड़ोसी विनोद पिता पंचम यादव द्वारा उनके खेत में मवेशी छोड़ दिए गए जब उन्होंने इन लोगों से मवेशियों को बाहर निकालने की बात कही तब इन लोगों ने उनके साथ मारपीट की और उन्हें जान से मारने की धमकी दी. घटना के बाद प्रकाश ने उनके भाइयों को इस बात की सूचना दी और डायल 100 को बुलाया लेकिन डायल 100 आरोपी पक्ष के लोगों को पकड़ने की बजाएं प्रकाश को एफआईआर करवाने का आश्वासन देकर आगर कोतवाली लेकर आई लेकिन उनकी एफआईआर नहीं लिखी गई.

आरोपी पक्ष के लोगों को रात करीब 9 बजे पीड़ित प्रकाश के मोहल्ले में तलवार लेकर घूमते देख प्रकाश के परिजन भी कोतवाली थाने आकर बैठ गए तभी से लेकर सुबह तक कड़कड़ाती ठंड के बीच पूर्व विधायक के परिजन रात भर थाने पर बैठे रहे लेकिन इन लोगों की कोतवाली थाना प्रभारी ने एक नहीं सुनी और करीब सुबह 10 बजे इस मामले में एफआईआर दर्ज हो पाई. बता दें आरोपी पक्ष के लोगों ने पहले भी पूर्व विधायक रामलाल मालवीय के परिजनों के साथ मारपीट की थी और उस समय एफआईआर दर्ज करवाई गई थी लेकिन उस मामले में भी अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है. पीड़ित परिवार के लोगों का कहना है कि हर बार हमारे साथ इस तरह की घटना होती है लेकिन पुलिस हमारी मदद करने के लिए आगे नहीं आती है वह आरोपी पक्ष के ऊपर मेहरबान है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed