बडौद टीआई ने कांग्रेस विधायक विपिन वानखेड़े, सहित 9 नामजद व 50 लोगों के खिलाफ दर्ज कराया मामला

कल कांग्रेस विधायक और बडौद थाना प्रभारी जेएस मंडलोई के बीच हुई तीखी नोकझोंक के बाद अब बडौद थाना प्रभारी मंडलोई ने कांग्रेस विधायक विपिन वानखेड़े सहित 9 नामजद व 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है.

आपको बता दें कांग्रेस के नवनिर्वाचित विधायक और एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष विपिन वानखेड़े और बडौद थाना प्रभारी जेएस मंडलोई के बीच एक कार्यकर्ता पर हुई कार्यवाही को लेकर तीखी नोकझोंक का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो में दोनों पक्षों की तरफ से जो शब्द व्यवहार हो रहा है उसको लेकर राजनीतिक गलियारों में चर्चा है. बता दें वायरल वीडियो कल दोपहर के समय बडौद थाने का है जिसमें विपिन वानखेड़े और उनके साथ कई कांग्रेसी नेता बडौद थाने में जाकर थाना प्रभारी के साथ बहस करते नजर आ रहे हैं और वानखेड़े बड़ौद थाना प्रभारी पर बीजेपी की दलाली करने का भी आरोप लगा रहे हैं.

यह है मामला……

गत दिनो कांग्रेस के ब्लाॅक अध्यक्ष प्रेमसिंह तंवर के विरूद्ध विद्युत विभाग के डी द्वारा गाली-गलोच करने एवं शासकीय कार्य में बाधा डालने का आरोप लगते हुए थाना बड़ौद में एफआईआर दर्ज करवाई थी. इसी प्रकरण के आधार पर पुलिस प्रेमसिंह तंवर के घर दबीश देने गई थी लेकिन वह घर पर मौजूद नही थे वहां महिलाएं व बच्चें थे.

वानखेड़े ने पुलिस पर लगाये कई आरोप……

आगर विधायक विपिन वानखेड़े ने पुलिस पर आरोप लगाया कि पुलिस भाजपा के ईशारे पर हमारे ब्लाॅक अध्यक्ष को जलील करने के लिये उनके गांव गई थी वही जब प्रेमसिंह घर पर नहीं थे तभी घर की महिलाओं के साथ पुलिस ने अभद्रता की है. प्रेमसिंह तंवर एक कद्दावर व्यक्ति है एवं राजनितिक दबाव में पुलिस ने अनकी प्रतिष्ठा को आघात किया है. एक सज्जन व्यक्ति को पकड़ने के लिये पुलिस तीन-तीन गाड़ियां एवं एक दर्जन पुलिस वाले लेकर गई. वानखेड़े ने कहा कि आपको प्रकरण दर्ज करना है आप करे किन्तू आप इस प्रकार हमारे कार्यकर्ताओं को जलील करेंगे तो हम बर्दाश्त नहीं करेंगे. आप अगर फोन लगाते तो भी प्रेमसिंह जी आपके पास थाने में आ जाते. हम डरते नहीं है अगर डरते तो प्रेमसिंह जी मैरे साथ अभी यहां नहीं आते. आप प्रकरण बनाइये एवं नियम अनुसार कार्यवाहीं कीजिए. आप जितने प्रकरण दर्ज करेंगे हम उतने प्रकरण में नियमानुसार जमानत करवायेंगे लेकिन अगर दुबारा आपने इस प्रकार भाजपा के इशारे पर हमारे कार्यकर्ताओं को टरगेट करने का प्रयास किया तो हम बर्दास्त नहीं करेंगे. अगर आप चाहते है कि हम आंदोलन करे तो उसमें भी हमे देर नहीं लगेगी, एक फोन पर बड़ौद तो क्या, आगर, उज्जैन, भोपाल में भी आंदोलन आपके विरूद्ध करवा दुंगा. भाजपा ने 15 महीनो में सरकार में काम कैसे होता है यह हम से सिखा है एवं अब विपक्ष में कैसे काम किया जाता है यह भी हम उन्हें सीखा देंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *