ग्राहकों को तलाशता गांजा तस्कर पकड़ा गया, 1 हफ्ते के भीतर दूसरी बड़ी सफलता


दमोह से शंकर दुबे की रिपोर्ट

उड़ीसा से लाए गए गांजा को आमजन को बेचने की फिराक में बैठे एक युवक को पुलिस ने रंगे हाथों धर लिया। पुलिस ने युवक से करीब पौने दो लाख का गांजा बरामद किया है। मामला कोतवाली थाना क्षेत्र का है।


उड़ीसा से बड़े पैमाने पर गांजा लाकर दमोह जिले में बेचने और खपाने का सिलसिला लंबे समय से अनवरत जारी है। इसी बीच आज स्थानीय सवा लाख मानस पाठ के समीप एक युवक के पास गांजा होने की सूचना कोतवाली पुलिस को मिली। जिस पर कोतवाली टीआई एच आर पांडे, उप निरीक्षक सौरभ शर्मा, प्रधान आरक्षक राकेश पाठक, आरक्षक राजेंद्र मिश्रा, सूर्यकांत पांडे, आकाश पाठक, हर्ष पाठक तथा कामता आदि ने घेराबंदी कर युवक को पकड़ लिया । पुलिस ने बताया कि ग्राम आनू निवासी नीलेश पुत्र धनीराम यादव उम्र 26 साल को पकड़ा गया है। युवक के पास से 11 किलो 500 ग्राम गांजा बरामद किया गया है। जिसका बाजार मूल्य तकरीबन एक लाख 72 हजार ₹760 आंका गया है । पुलिस ने बताया कि पूछताछ करने पर युवक ने उड़ीसा से आए किसी बंडा छक्का नामक युवक से गांजा लेना बताया है। लेकिन वह उसका पूरा पता नहीं बता पा रहा है। मालूम हो कि पुलिस ने कुछ दिन पूर्व ही उड़ीसा से ही बेचने के लिए दमोह लाए गए करीब 8 किलो से अधिक गांधी को बरामद किया था। पुलिस ने अभी इस बात का खुलासा नहीं किया है कि यह युवक दमोह में किसी गांजा सप्लाई करता है।

लगातार आ रहा उड़ीसा से गांजा

मालूम हो कि दमोह जिले में गांजा और शराब का अवैध रूप से विक्रय करने और पकड़े जाने का यह पहला मामला नहीं है। कुछ दिन पूर्व ही कुम्हारी पुलिस ने 196 पेटी अवैध शराब बरामद की थी। उसके बाद पथरिया पुलिस ने एक युवक से गांजा बरामद किया था। तथा आज कोतवाली पुलिस ने भी बड़े पैमाने पर गांजा बरामद किया है। अवैध रूप से गांजा और शराब बेचने वालों के तार दूर-दूर तक जुड़े होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। पुलिस को हाथ लगने वाली सफलता से भी अवैध कारोबार करने वालों के मनोबल नहीं तोड़ पा रही है । यही कारण है कि आए दिन पुलिस द्वारा गांजा और शराब पकड़े जाने के मामले सामने आ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Do not copy content thank you