June 3, 2020

एसपी के खिलाफ धरने पर बैठे भीम आर्मी के कार्यकर्ता.

उज्जैन: एसपी मनोज कुमार सिंह द्वारा जय भीम बोलने पर कानूनी कार्यवाही करने की बात कही थी जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ ली है। मामला इतना आगे बढ़ गया जिसका किसी ने सोचा भी नही था। सामाजिक संघटन भीम आर्मी द्वारा लगातार उज्जैन एसपी का अलग-अलग तरीके से विरोध किया जा रहा है। ट्विटर से लेकर ज्ञापन तक का सहारा विरोध के लिए लिया गया। भीम आर्मी की मांग है की उज्जैन एसपी को सेवा से बर्खास्त किया जाए। इसी के सम्बंध में आज भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं द्वारा उज्जैन आईजी के कार्यलय के सामने धरना-प्रदर्शन किया गया। लॉकडाउन में धरना सुनने में अजीब लग रहा होगा लेकिन धरना पूर्ण रूप से संवैधानिक दायरे में हुआ और कोरोना संक्रमण से बचने के उपाय भी किए गए। धरने में शामिल सभी कार्यकर्ताओं द्वारा मास्क का प्रयोग किया गया वही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी किया गया।

जाने क्या है मामला…

जिले में कुछ दिन पूर्व कुछ पुलिसकर्मी द्वारा जय श्री महांकाल और जय हिंद की जगह वायरलेस पर जय भीम का सम्बोधन किया था. जिसके बाद एसपी मनोज कुमार सिंह द्वारा पुलिसकर्मीयो को राजनीतिक षड्यंत्र का शिकार होना बताया था और उन्हें चेतावनी दी थी की आगे से वह इस शब्द का प्रयोग ना करे अन्यथा उन पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी। इसी के बाद पूरा मामला आगे बड़ा था।

आइये जानते है भीम आर्मी के सुनील अस्तेय का क्या कहना है इस मुद्दे पर..

भीम आर्मी के पूर्व प्रदेश प्रभारी सुनील अस्तेय से जब इस सम्बंध में चर्चा की गई तो उन्होंने बताया की अभी तो हमने शांतिपूर्ण तरीक़े से धरना प्रदर्शन किया है अगर 17 जून तक उज्जैन एसपी मनोज कुमार सिंह को बर्खास्त नही किया जाता है तो 17 जून को भीम आर्मी द्वारा उग्र आंदोलन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *